" /> जिद बनी जलालत

जिद बनी जलालत

टीम इंडिया की न्यूजीलैंड में वन डे और टेस्ट सीरीज में हुई शर्मनाक हार के पीछे कप्तान विराट कोहली की वो जिद है, जो जलालत बन गई। कोहली ने अपने पैरों पर कुल्हाड़ी चलाते हुए पूरी टीम का सत्यानाश कर दिया। अब तक एक मजबूत टीम मैदान पर उतरती रही और कोहली को जीत दिलाती रही मगर न्यूजीलैंड में कोहली की जिद ने उसे टेस्ट सीरीज के दोनों टेस्ट पराजय का मुंह दिखाया। इसके बावजूद कोहली अपनी जिद से मिली जलालत को अस्वीकार कर रहे हैं ये और अधिक शर्म की बात है। कोहली ने जहां ऋद्धिमान सहा की जगह ऋषभ पंत को तरजीह दी वहीं विकेट के पीछे भी और बल्लेबाजी में भी एक खिलाड़ी को गवां बैठे। पंत फ्लॉप रहे। इसके बाद चोटिल ईशांत को टीम में रखकर एक तरफ जहां उन्होंने ईशांत के करियर को खराब किया, वहीं टीम का सत्यानाश भी किया। प्लेइंग इलेवन का कन्फ्यूजन बनाए रखना भी कोहली द्वारा टीम का मनोबल तोड़ देने जैसा हुआ। अपनी जिद की वजह से उन्होंने चेतेश्वर पुजारा को तेज खेलने के लिए ललकारा और पुजारा का विकेट गवां डाला। टेस्ट में जहां धीमे और संभल कर चलना होता है कोहली ने बल्लेबाजों को तेज खेलने की हिदायत देकर मटियामेट कर डाला। जबर्दस्ती की आक्रमता के चक्कर में विकेट गवां बैठी टीम इंडिया के पास पराजय के अलावा कुछ नहीं बचा। कुल मिलाकर कोहली ने अपनी होशियारी में टीम इंडिया को हरवा दिया। फिर भी कानों पर जूं नहीं रेंगती दिखाई दे रही।