" /> जिले में एक भी कोरोना पीड़ित नहीं -जिलाधिकारी

जिले में एक भी कोरोना पीड़ित नहीं -जिलाधिकारी

कोरोना वायरस से दुनिया के लोग परेशान हैं। गत दिनों ठाणे, रायगढ़, पालघर जिले के ९८ पर्यटक चीन, इटली, ईरान, इंडोनेशिया, सिंगापुर से आए थे, जिसमें पालघर के ४५ पर्यटक को वाड़ा में डॉक्टर की निगरानी में रखा गया था। हालांकि तकरीबन ४० पर्यटक के नमूने निगेटिव पाए गए हैं, बाकी ५ लोगों के नमूने मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में जांच के लिए भेजा गया है। यह जानकारी पालघर जिला अधिकारी वैâलाश शिंदे ने पत्रकारवार्ता में दी।
पालघर जिलाधिकारी डॉ. कैलाश शिंदे ने बताया कि विभिन्न देशों से पर्यटन के लिए पालघर में दाखिल हुए ४५ लोगों को डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया था, जिनमें १९ पर्यटकों में कोरोना संक्रमण के किसी प्रकार के लक्षण नहीं दिखे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। हालांकि २६ लोगों को अभी भी डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है।
विश्वभर में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रतिबंधात्मक उपाय के लिए जिला पालघर की महानगरपालिका, सभी नगर पंचायतों के क्षेत्र में आनेवाले सभी सरकारी, प्राइवेट विद्यालयों और महाविद्यालयों तथा प्रशिक्षण केंद्रों द्वारा स्थापित शिक्षण संस्थाओं, यात्रा, जत्रा, दिंडी, पदयात्रा, कीर्तन, भंडारा, सार्वजनिक सप्ताह आदि कार्यक्रमों को ३१ मार्च तक स्थगित कर दिया गया है।
जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में अब तक एक भी मामला कोरोना वायरस से ग्रसित का नहीं आया है, लेकिन जिले में बड़ी संख्या में विदेश से आनेवाले को देखते हुए अतिरिक्त सावधानियां बरती जा रही हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर अफवाह पैâलानेवालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।