जीवन तंत्र : छोटा काम, जीना आसान

घर में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ाने के लिए कर्पूर का धूप करें। यह अति सुगंधित पदार्थ होता है तथा इसके दहन से वातावरण सुगंधित हो जाता है। कर्पूर जलाने से देवदोष व पितृदोष का शमन होता है। प्रतिदिन सुबह और शाम घर में संध्यावंदन के समय कर्पूर जरूर जलाएं।
घर के किसी भी कार्य के लिए निकलते समय पहले विपरीत दिशा में ४ कदम जाएं, इसके बाद कार्य पर चले जाएं, ऐसा करने से आपका कार्य जरूर बनेगा।
परिवार में सुख-शांति और समृद्धि चाहते हैं तो प्रतिदिन प्रथम रोटी के चार बराबर भाग करें और इन चारों भागों को एक-एक कर क्रमश: गाय को, दूसरा काले कुत्ते को, तीसरा कौए को और चौथा चौराहे पर रख दें। ऐसा करने से घर में सुख-शांति बनी रहेगी और समृद्धि आएगी।

वास्तु-तथास्तु
घर के किसी कोने में मधुमक्खी का छत्ता न लगने पाए वास्तु की दृष्टि से यह अशुभ माना गया है।
सोने से पहले जूते-चप्पल कभी भी बिस्तर के नीचे या सिरहाने की तरफ न उतारें, इससे निगेटिव एनर्जी आती है।
मोबाइल, लैपटॉप आदि अपने बिस्तर पर रखकर न सोयें। ये चीजें राहु से संबंधित होती हैं, इससे राहुदोष उत्पन्न होता है।
किसी प्रकार का कोई तेल अपने पास रखकर नहीं सोना चाहिए, इससे जीवन में विभिन्न प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।
मोर पंख कई देवी-देवताओं से संबंधित है। इसे घर में रखना बहुत ही अच्छा माना जाता है। मोर पंख को घर के मंदिर में और बच्चों के कमरे में रखना चाहिए। इससे नकारात्मक ऊर्जा उस जगह नहीं रह पाती है।