" /> टेंशन के ३० दिन!

टेंशन के ३० दिन!

हिंदुस्थान में कोरोनावायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। महाराष्ट्र में इसका सबसे ज्यादा प्रकोप है। यहां मरीजों की संख्या बढ़कर ४१ पर पहुंच चुकी है। मनपा के स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि आगामी एक महीना काफी टेंशन भरा है क्योंकि अगर इस दौरान हम इसके प्रसार पर नियंत्रण कर पाने में सफल रहे तो फिर यह चीन, ईरान और इटली जैसा रौद्र रूप यहां नहीं दिखा पाएगा। हम इस पर काबू पा लेंगे।
बता दें कि सरकार द्वारा साझा किए गए आधिकारिक आंकड़े बताते हैं कि कोरोना के मामले हर पांच से छह दिनों में दोगुने हो रहे हैं। यदि इसी तरह का पैटर्न जारी रहा तो हिंदुस्थान में अगले छह दिनों में मामले २५२ पर पहुंच सकते हैं। इस हिसाब से हिंदुस्थान में अगले ३० दिन टेंशन के सिद्ध हो सकते हैं। कोरोना वायरस की वजह से जगह-जगह पर स्कूल, कॉलेज, मॉल, सिनेमा हॉल सरकारी-गैर सरकारी कार्यालयों में ३१ मार्च तक पूर्ण अथवा आंशिक अवकाश भी घोषित कर दिया गया है। लोगों का मानना है कि गर्मी बढ़ने के साथ-साथ कोरोना वायरस का प्रभाव कम होगा लेकिन एक्सपर्ट का मानना है कि कोरोना अभी हिंदुस्थान में दूसरी स्टेज में है। अगले ३० दिनों में यह महामारी का रूप ले सकती है और अगले ६ महीने तक बनी रहेगी।

एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना का वायरस हवा से नहीं पैâलेगा। कोरोना प्रभावित के संपर्क में आने से ही यह वायरस पैâलता है। ऐसे में हर आदमी की जिम्मेदारी है कि वह अपने परिवार के हर सदस्य के साथ-साथ अपने आस-पड़ोस सोसाइटी में रहनेवाले लोगों की सेहत का भी ध्यान रखें। सोसायटी में यदि कोई शख्स हाल-फिलहाल में विदेश यात्रा से लौटा होगा तो इसकी सूचना संबंधित अधिकारियों को देनी चाहिए। घर का हर सदस्य बाहर से लौटने पर कम से कम २० सेकंड तक साबुन और पानी से हाथ अच्छी तरह धोए। कम से कम ४ सप्ताह बाहरी खाद्य पदार्थ खासकर ऑनलाइन खाद्य पदार्थ बेचनेवालों से खाद्य पदार्र्थ न खरीदें। इसके अलावा भीड़ इकट्ठा होनेवाले सार्वजनिक, पारिवारिक, सामाजिक एवं धार्मिक समारोहों में न जाएं।