टैरेस पर स्टंटबाजी

प्रभादेवी रेलवे स्टेशन के पास स्थित १४ मंजिला इमारत के टैरेस पर जानलेवा स्टंटबाजी करनेवाले विदेशी स्टंटबाजों को पुलिस ने हिरासत में लेकर वापस लंदन भेज दिया है।
बता दें कि मंगलवार को एक युवक द्वारा एक बहुमंजिला इमारत की छत से दूसरी इमारत की छत पर छलांग लगाने का सनसनीखेज वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। इन दोनों इमारतों के बीच लगभग २२ फीट की दूरी है। उक्त वीडियो प्रभादेवी रेलवे स्टेशन के पास एसआरए योजना के तहत बनी बाबा साहेब आंबेडकर नामक इमारत के टैरेस पर फिल्माया गया था। लिहाजा स्थानीय लोगों ने दादर पुलिस थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई थी। अनुमानत: रविवार को फिल्माए गए इस वीड़ियो की जांच के बाद पुलिस ने ६ विदेशियों को हिरासत में लिया, जो कि मूल रूप से लंदन के रहनेवाले हैं। इन युवकों का ‘स्टोर्रोर’ नामक यह समूह लंदन में ‘पर्कौर’ एथिलिट गेम के लिए मशहूर है। ‘पर्कौर’ गेम में एक बहुमंजिला इमारत की छत से (ऊंची जगह) दूसरी बहुमंजिला इमारत की छत (ऊंची जगह) पर छलांग (रूफ टॉप जंप) लगाई जाती है। पुलिस को जानकारी मिली है कि मुंबई में भी कुछ लोग ऐसा ही एक समूह बना रहे हैं। लंदन के स्टंटबाजों को वापस भेजने के बाद पुलिस जांच कर रही है कि मुंबई के ‘पर्कौर’ भी इस स्टंटबाजी में शामिल तो नहीं था। गौरतलब हो कि पहले ही रेलवे में तथा मुंबई की सड़कों पर बाइक से स्टंटबाजी करनेवाले स्टंटबाजों पर नकेल कसने में पुलिस परेशान रहती है। उस पर इस समूह की वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस परेशान है। स्टंटबाजी के इस नए तरीके से मुंबई में हादसे एवं चोरी जैसे अपराधों में बढ़ोतरी होने की आशंका जताई जा रही है।