ठंड और गांजे का कॉम्बिनेशन, दोगुनी हुई डिमांड

मौसम दिन-ब-दिन ठंडा ही होता जा रहा हैं। जिस प्रकार शराबी ठंड में शराब पीकर मौसम का आनंद उठाते हैं उसी प्रकार गंजेड़ी ठंड के मौसम में गांजे का दोगुना शुट्टा लगाकर मौसम का आनंद उठाते हैं। लेकिन पुलिस कार्रवाई के चलते शहर के सभी सप्लायर शांत बैठे हैं। ऐसे में ठंड और गांजे के कॉम्बिनेशन के लिए गंजेड़ी नए डीलर के माध्यम से शहर में गांजे की खेप मंगवा रहे हैं। ठाणे क्राइम ब्रांच ने सोमवार को ऐसे ही एक डीलर को गिरफ्तार कर साढ़े २८ किलो गांजा जप्त किया है, जिसकी कुल कीमत ९ लाख रुपए बताई जा रही है।
ठाणे क्राइम ब्रांच के नारकोटिक्स सेल के अनुसार गांजे की तस्करी ठंड के मौसम में ही बढ़ जाती है। इस तस्करी के बढ़ने का मुख्य कारण है कि गंजेड़ियों को ठंड में अधिक खुराक की जरूरत पड़ती है। ठाणे नारकोटिक्स के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पकड़े गए कई गंजेड़ियों से जब पूछताछ की जाती है तो उनका कहना होता है ठंड के मौसम में गांजा पीने का अपना अलग ही मजा होता है, जो गंजेड़ी आम दिनों में ४ बार गांजे का शुट्टा लगाता है, वही गंजेड़ी ठंड के मौसम में ६ से ७ बार शुट्टा मारता है। ठंड के मौसम में गंजेड़ियों को शरीर के तापमान को ऊंचा रखने में भी गांजा मदद करता है। इन्हीं सभी कारणों की वजह से गांजे की तस्करी दोगुनी हो जाती है।