ठाणे की सुपर सुरक्षा! चोर रास्तों पर लगेगा ताला

रोजाना करीब दस लाख यात्रियों की आवाजाही का भार झेलनेवाले ठाणे रेलवे स्टेशन की सुरक्षा के लिए खास इंतजाम किए जा रहे हैं, इसमें सबसे अहम है चोर रास्तों पर ताला लगाने का कार्य। इसके तहत स्टेशन १६ मार्ग बंद कर दिए जाएंगे जबकि प्रवेश मार्गों पर पुलिस की पैनी नजर बनी रहेगी। इस कदम से स्टेशन पर भीड़ के समय धक्का-मुक्की से बचाव भी हो पाएगा।
उल्लेखनीय है कि अब तक ठाणे रेलवे स्टेशन पर आने- जाने के लिए २० से अधिक खुले मार्ग थे। जहां से कोई भी व्यक्ति आसानी से स्टेशन में घुसकर किसी भी घटना को अंजाम दे सकता था। रोजाना लाखों की संख्या में ठाणे रेलवे स्टेशन से यात्रा करनेवाले यात्रियों की सुरक्षा अब तक लचर ही थी। ठाणे रेलवे स्टेशन और वहां से यात्रा करनेवाले यात्रियों की सुरक्षा सुपर हो इसलिए मध्य रेलवे प्रशासन और रेलवे पुलिस ने इन सभी चोर मार्गों को बंद करने का निर्णय लिया है। मध्य रेलवे अधिकारियों का कहना है कि ठाण रेलवे स्टेशन महत्वपूर्ण स्टेशनों में से एक है, जिसकी सुरक्षा व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए यह निर्णय लिया गया है।
२४ में से १६ मार्ग होंगे बंद
ठाणे रेलवे स्टेशन पर जाने के लिए मौजूदा समय में मुख्य व चोर मार्गों को मिलाकर कुल २४ मार्ग मौजूद हैं। मध्य रेलवे प्रशासन व रेलवे पुलिस ने इन २४ मार्गों में से कुल १६ मार्गों को बंद करने का निर्णय लिया है।
१० लाख यात्रियों को मिलेगी सुरक्षा
ठाणे स्टेशन मध्य रेलवे के महत्वपूर्ण स्टेशनों में से एक है, जहां से रोजाना करीब ९ से १० लाख यात्री यात्रा करते हैं। यहां मौजूद चोर मार्गों के बंद होने से किसी वारदात या घटना को अंजाम देनेवाले ठाणे स्टेशन पर नहीं जा सकते, इससे १० लाख यात्रियों को बेहतर सुरक्षा मिलेगी।
आपातकालीन शटर
कुल २४ चोर मार्गों में से १६ मार्गों को बंद कर वहां आपातकालीन शटर लगाया जाएगा। भीड़ के दौरान रेलवे पुलिस द्वारा उस शटर को उठा दिया जाएगा, जिससे भगदड़ और धक्का-मुक्कीr की नौबत नहीं आएगी।
पुलिसकर्मी होंगे तैनात
ठाणे रेलवे पुलिस निरीक्षक राजेंद्र पांडव ने बताया कि पुलिस बल की कमी के चलते हम हर मार्ग पर पुलिस की तैनाती नहीं कर सकते थे लेकिन अब १६ मार्गों को बंद करने के बाद हम बचे हुए मार्गों पर पुलिस कर्मचारी की तैनाती कर ठाणे रेलवे स्टेशन को सुरक्षा कवच प्रदान कर सकते हैं।
यात्रियों ने माना बेस्ट
ठाणे रेलवे स्टेशन से रोजाना यात्रा करनेवाले दीपक जाधव ने बताया कि चोर मार्गों को बंद करने से कोई भी व्यक्ति पुलिस की नजर से बचकर ठाणे रेलवे स्टेशन पर नहीं जा सकता और किसी भी वारदात को अंजाम नहीं दे सकता।