ठाणे में चुनावी तैयारी पूरी, जिला अधिकारी ने दी जानकारी

लोकसभा चुनाव को लेकर रविवार से पूरे देश में आचार संहिता लागू हो गई है। चुनाव को लेकर लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस लोकसभा चुनाव में जिले में ५ लाख ८० हजार ७८३ नए मतदाता जुड़े हैं। वर्तमान समय में जिले में कुल ६० लाख ९४ हजार ३०८ मतदाता लोकसभा चुनाव में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे, ऐसी जानकारी जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर ने दी। चुनाव को लेकर जिलाधिकारी नार्वेकर ने कहा कि ‘सीवीजिल मोबाइल ऐप’, हेल्पलाइन नंबर १९५०, उड़नदस्ता, सीसीटीवी वैâमरे सहित अत्याधुनिक तकनीकी का इस्तेमाल कर निगरानी के साथ नियंत्रण भी रखा जाएगा। राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को भी इस बारे में बताया गया है। जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर ने बताया कि जिले के ठाणे, कल्याण और भिवंडी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में २९ अप्रैल को चुनाव होगा।
चुनाव खर्च और विज्ञापन पर खास नजर   
आचार संहिता के दौरान जिले में चुनाव खर्च पर निगरानी और नियंत्रण रखा जाएगा। इसके लिए जिलास्तर पर नियंत्रण कक्ष की स्थापना कर दी गई है। राजनीतिक दलों और उनके प्रत्याशियों के विज्ञापन पर नजर रखने के लिए  ‘मीडिया सर्टीफिकेशन एंड मॉनिटरिंग कमिटी’ की स्थापना की गई है, जो जिला सूचना अधिकारी की देखरेख में काम करेगी।
जिले में ७२ गश्त दस्ते कार्यरत  
जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में ७२ उड़नदस्ते नियुक्त किए गए हैं। इसके साथ ही २१ वीडियोग्राफरों की टीम को भी काम पर लगाया गया है। उन्होंने कहा कि जिले में शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए ६२ हजार कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है। चुनाव में लापरवाही या जल्दबाजी करनेवाले अधिकारियों व कर्मचारियों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि सभी राजनीतिक दलों, प्रचार माध्यमों और सरकारी विभागों के प्रमुखों की बैठक लेकर उन्हें आदर्श आचार संहिता के नियमों का पालन करने की जानकारी दी गई है।
दिव्यांगों के लिए विशेष सुविधा
जिलाधिकारी नार्वेकर ने बताया कि ठाणे जिले में कुल तीन हजार ८८३ दिव्यांग मतदाताओं को चिह्नित किया गया है। उन्हें मतदान के समय कोई असुविधा न हो, इसका विशेष ध्यान दिया गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि दिव्यांगों को उनके घर से मतदान केंद्र तक लाने और वापस ले जाने के लिए वाहन की व्यवस्था के साथ-साथ मतदान केंद्रों पर लिफ्ट और व्हील चेयर आदि की सुविधा भी की गई है।
ईवीएम मशीन और वीवीपैट उपलब्ध 
जिलाधिकारी ने बताया कि ठाणे जिले में कुल ६,४८८ मतदान केंद्र बनाए गए हैं, इनमें सहायक मतदान केंद्रों के बढ़ने की भी संभावना है। जिले में १४,६३४ बीयु, ८,३६८ सीयु और ९,२९९ वीवीपैट मशीनें उपलब्ध कराई गई हैं।
पुलिस बल 
नार्वेकर ने बताया कि चुनाव शांति से कराने के लिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय, ठाणे और नई मुंबई पुलिस आयुक्तालय के साथ पांच से छह बैठकों का आयोजन किया गया है। चुनाव के दौरान ७१८ पुलिस अधिकारी और ८ हजार ३६० पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर और सुरक्षा बलों को बुलाया जाएगा। इसके साथ ही ३० प्रतिशत मतदान केंद्रों पर सीसीटीवी वैâमरे लगाए गए हैं।