ठाणे लोकसभा सीट का संग्राम राजन का रहेगा राज

ठाणे लोकसभा क्षेत्र से मौजूदा शिवसेना सांसद राजन विचारे एक बार फिर मैदान में हैं। इस बार राजन विचारे की स्थिति पहले से मजबूत नजर आ रही है। इसका कारण है कि युति के बाद चुनावी गणित सीधे-सीधे राजन का राज कायम रहने का सिग्नल दे रहा है। जबकि विपक्ष की उम्मीदवार की खोज भले ही आनंद पर जाकर टिक गई हो लेकिन यहां से चुनाव लड़ने को खुद उम्मीदवार आनंद परांजपे भी कम ही इच्छुक थे।

उम्मीदवारी को लेकर विपक्ष की मगजमारी
ठाणे लोकसभा सीट से शिवसेना उम्मीदवार राजन विचारे का सामना करने के लिए विपक्ष के धुरंधरों ने भी अपने हथियार डाल दिये। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने गणेश नाईक को लड़ाना चाहा था। लेकिन गणेश नाईक ने उन्हें साफ-साफ मना कर दिया। भीतरखाने से मिली जानकारी के अनुसार गणेश नाईक ने कह दिया था कि ठाणे लोकसभा से उनका जीतना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। जिसके बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने जबरदस्ती टिकट आनंद परांजपे को दिया है। आनंद परांजपे २०१४ में कल्याण लोकसभा सीट से शिवसेना के डॉ.श्रीकांत शिंदे से हार का सामना कर चुके हैं।

शिवसेना-भाजपा युति का गढ़
वैसे तो पूरा ठाणे ही शिवसेना के गढ़ के रूप में जाना जाता है लेकिन ओवला-माजीवाड़ा, कोपरी-पाचपाखाड़ी, ठाणे शहर, मीरा-भाइंदर और बेलापूर शिवसेना-भाजपा युति के गढ़ के रूप में जाना जाता है। यहां के मतदाता युति के कार्यों से खुश होकर शिवसेना-भाजपा को ही अपना कीमती मत देती आई है।

सबका साथ सबका विकास
शिवसेना सांसद राजन विचारे सबका साथ सबका विकास के स्लोगन को अपनाकर पिछले ५ वर्षों से काम कर रहे हैं। अपने कार्यकाल में उन्होंने सियासत से ज्यादा विकासकार्यों पर जोर दिया। बेहद शांत स्वभाव, मिलनसार, जनता में आम जनता जैसे मिल जाने वाले राज विचारे को २०१४ के लोकसभा चुनाव में ठाणेकरों ने भारी मतों से लोकसभा में पहुंचाया था। जिसका नतीजा था कि शिवसेना ने राष्ट्रवादी कांग्रेस के संजीव नाईक को २ लाख ८१ हजार २९९ मतों पराजित किया था।

वर्ष २०१४ की स्थिति
राजन विचारे-शिवसेना- ५,९५,३६४
संजीव नाईक-राष्ट्रवादी-३,१४,०६५
अभिजीत पानसे-मनसे-४८, ८६३
संजीव साने-अपक्ष-४१,५३५

ठाणे लोकसभा मतदारसंघ के विधायक
ओवला-माजीवाड़ा—–प्रताप सरनाईक (शिवसेना)
कोपरी-पाचपाखाड़ी- एकनाथ शिंदे (शिवसेना)
ठाणे- संजय केलकर (भाजपा)
मीरा-भाइंदर—-नरेंद्र मेहता (भाजपा)
ऐरोली-संदीप नाईक (राष्ट्रवादी)
बेलापूर-मंदा म्हात्रे (भाजपा)

राजन विचारे द्वारा किए गए विशेष कार्य
एक्सटेंडेड ठाणे रेलवे स्टेशन के लिए मनोरुग्णालय की जगह दिलवाई। जिससे ठाणे स्टेशन की भीड़ कम होगी। जनता को होगा फायदा।
ठाणे पूर्व सैटिस के कार्य की शुरुआत की गई।
ठाणे स्टेशन पर एस्केलेटर और नए एफओबी का निर्माण।
अंतर्गत जलयातायात कार्य की शुरुआत। कल्याण, ठाणे, वसई, नई मुंबई शहर को जोड़ने का महत्वपूर्ण कार्य किया जाना है। जिससे यात्रा के एक और साधन ठाणेकरों को मिलेगा।
दिघा रेलवे स्टेशन के कार्य की शुरुआत।
ठाणे रेलवे स्टेशन को अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस करने का कार्य।