डेंजरस ईयर एंडिंग, आग से २१ की मौत

मुंबई में निरंतर आग की घटनाएं घट रही हैं। बीते एक वर्ष में सिर्पâ दिसंबर महीने में ही २१ लोगों की आग में झुलसने से मौत हो गई है। जबकि वर्ष २०१७ के दिसंबर महीने में आगजनी से २६ लोगों की मौत हो गई थी। बीते वर्ष की तरह ही इस वर्ष की इयर एंडिंग भी डेंजरस रही।
बता दें कि इस वर्ष दिसंबर महीने में ९ जगह आग की घटनाएं घटीं। २ दिसंबर को महालक्ष्मी स्थित १८ मंजिला इमारत में आग लगने से महिला की मौत हो गई थी। इसी तरह १७ दिसंबर को अंधेरी के कामगार अस्पताल में लगी आग में कुल ११ लोग अपनी जान गंवा बैठे। १९ दिसंबर को होटल ट्राइडेंट में आग लगी लेकिन इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ था। २० दिसंबर को जहां वरली के दूरदर्शन वेंâद्र में आग लगी थी, वहीं २३ दिसंबर को खार का एक ब्यूटी पार्लर आग की चपेट में आ गया। कांदिवली स्थित दामू नगर इलाके के कपड़े कारखाने में लगी आग में ४ लोगों की मौत हो गई थी। २७ दिसंबर को चेंबूर के तिलक नगर स्थित सरगम सोसाइटी में लगी आग में ५ लोग अपनी जान गंवा बैठे। आग लगने का यह सिलसिला २९ दिसंबर को भी जारी रहा। वरली के साधना हाउस में लगी आग से उठनेवाले जानलेवा धुएं से १६ दमकल जवान प्रभावित हुए, जिनका इलाज स्थानीय अस्पताल में चल रहा है, इनमें से कुछ की हालत चिंताजनक बताई जा रही है।