" /> डॉम ने तोड़ा लार का नियम

डॉम ने तोड़ा लार का नियम

ये अंदेशा तो था कि गेंदबाज अपनी आदत से बाज़ नहीं आएँगे और वो भी यदि अंग्रेज हों तो बेईमानी होगी है। अब देखिए न वेस्टइंडीज के साथ दूसरा टेस्ट मैच चल रहा है। और कोरोना महामारी फैलने के बाद क्रिकेट पर लगे ब्रेक के बाद यह पहली इंटरनेशनल सीरीज है। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने कोरोना वायरस संक्रमण फैलने की वजह से गेंद को चमकाने के लिए लार लगाने पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया है। मैनटेस्टर में खेले जा रहे मैच में इंग्लैंड के डॉम सिब्ले ने आईसीसी की पाबंदी को तोड़ते हुए गेंद को चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल किया।मैनचेस्ट टेस्ट मैच के चौथे दिन लंच के ठीक पहले इंग्लैंड के खिलाड़ी सिब्ले ने आईसीसी द्वारा गेंद को चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल करने पर लगाई गई पाबंदी को तोड़ा। लंच से ठीक पहले सिब्ले ने गेंद को चमकाने के लिए लार लगाई और अपनी गलती का एहसास होते ही उन्होंने तुरंत इस बात की जानकारी फील्ड अंपायर को दी। माइकल गॉफ और रिजर्ड इलिंगवर्थ ने साथ मिलकर गेंद का निरक्षण किया। सिब्ले ने गलती से लार का इस्तेमाल किया था इसलिए उनको केवल चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। लार लगाकर चमकाने की वजह से गेंद संक्रमित हो गई थी और इसी वजह से अंपायर ने इस अपने हाथ में लेकर इसका निरक्षण किया। इसके बाद अंपायर गॉफ ने गेंद को डिसइन्फेक्ट करने वाली वाइप जेब के निकालकर इसे साफ किया। आईसीसी ने लार पर पाबंदी लगा रखी है।