तंदुरुस्त होंगे एक्सप्रेस हाई-वे के पुल, २१ पदयात्री पुलों को किया जाएगा मजबूत

गोखले पुल हादसे की घटना के बाद शहर के सभी पुलों पर सरकार विशेष ध्यान दे रही है। पुराने पुलों का परीक्षण और उसे दोबारा मजबूती देकर तंदुरुस्त करने का काम काफी जोरों में चल रहा है। जानकारी के मुताबिक मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकारण (एमएमआरडीए) वेस्टर्न एक्सप्रेस हाई-वे और ईस्टर्न एक्सप्रेस हाई-वे के कुल २१ पादचारी पुलों को मजबूत करने जा रही है। बता दें कि एमएमआरडीए ने जिन पादचारी पुलों को तंदुरुस्त करने की योजना बनाई है, उसमें वेस्टर्न एक्सप्रेस हाई-वे के ८ पादचारी पुल और ईस्टर्न एक्सप्रेस हाई-वे के १३ पादचारी पुलों का समावेश है। योजना के अनुसार पुलों का ढांचा कमजोर न होने पाए इसलिए ईस्टर्न और वेस्टर्न एक्सप्रेस हाई-वे के सभी पादचारी पुलों पर लगे छपरे और विज्ञापन की होर्डिंग निकालने का आदेश एमएमआरडीए कमिश्नर आर.ए.राजीव ने दिया है। पुलों पर से ये सभी अनावश्यक चीजें हटने से पुलों पर पड़नेवाला अतिरिक्त भार कम होगा। साथ ही पुलों की लाइफ भी बढ़ेगी। अधिकारियों का कहना है कि वेस्टर्न एक्सप्रेस हाई-वे के ८ पुलों का निरीक्षण हो गया है। जल्द ही ईस्टर्न एक्सप्रेस हाई-वे के १३ पुलों का भी निरीक्षण हो जाएगा। इतना ही नहीं एमएमआरडीए ईस्टर्न और वेस्टर्न हाई-वे के पुलों की मजबूती की भी जांच कर रही है।