तंबाकू के धुएं से निकलते हैं, ७ हजार जहरीले रसायन, मंत्री बडोले ने बताया

तंबाकू और तंबाकू के धुएं में निकोटीन जैसे सात हजार से अधिक जहरीले रसायन होते हैं, जिससे व्यसनाधीन व्यक्ति को वैंâसर जैसी गंभीर बीमारी होती है। व्यसनाधीन व्यक्ति ही नहीं बल्कि उस व्यक्ति का परिवार भी तंबाकू का शिकार हो रहा है। राज्य सरकार और ‘सलाम मुंबई फाउंडेशन’ संयुक्त रूप से सुदृढ महाराष्ट्र बनाने का कार्य कर रहा है। मुंबई समेत राज्य के स्कूल तंबाकू मुक्त करने के लिए अभियान में अधिकतम नागरिकों ने सक्रिय भाग लेना चाहिए और देश की आनेवाली पीढ़ी निरोगी करना चाहिए, यह आवाहन सामाजिक न्याय मंत्री राजकुमार बडोले ने कल किया।
मंत्रालय के त्रिमूर्ति प्रांगण में ‘विश्व तंबाकू विरोध दिवस’ के उपलक्ष्य में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम के उद्घाटन अवसर पर राजकुमार बडोले बोल रहे थे। इस दौरान बडोले ने शहर में बड़े पैमाने पर वितरित हो रहे प्रतीकात्मक पेन हुक्का को प्रतीकात्मक शैक्षणिक पेन से नष्ट करेंगे और स्कूल में सिर्फ शिक्षा के लिए ही पेन रहेगी, यह विश्वास व्यक्त किया। कार्यक्रम स्थल पर जनजागृति संदेश के पोस्टर्स लगाए गए। साथ ही फेफड़ों (फुफ्फुस) की जांच की गई। बडोले ने कहा कि ‘सलाम मुंबई फाउंडेशन’ तंबाकू विरोध दिवस के अवसर पर व्यसनमुक्ति जैसे अभियान चला रही है। उनका यह कार्य सराहनीय है। स्कूल परिसर में पेन हुक्का बंद करने काम राज्य सरकार कर रही है और भविष्य में पूरे स्कूलों को तंबाकूमुक्त करने के लिए सरकार ने प्रयास शुरू किए गए हैं।