दबोचा गया सीरियल मॉलेस्टर, सीसीटीवी फुटेज से हुई थी शिनाख्त

ठाणे ग्रामीण पुलिस की लोकल क्राइम ब्रांच ने महिलाओं और बच्चियों से राह चलते छेड़खानी और विनय भंग करनेवाले (सीरियल मोलेस्टर) को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार पकड़े गए युवक के खिलाफ पहली शिकायत नया नगर पुलिस थाने में १४ अप्रैल को दर्ज की गई थी, जिसमें एक ११ वर्ष की लड़की इस युवक का शिकार बनी थी। घर के पास ही स्टेशनरी की दुकान से सामान खरीदकर लौटते समय उक्त नराधम ने पीड़िता से छेड़छाड़ की थी। पीड़िता द्वारा इसकी जानकारी अपने मां को देने के बाद पुलिस में शिकायत दर्ज की गई थी। १५ अप्रैल को ऐसी ही शिकायत एक २२ वर्षीय युवती ने भी नया नगर पुलिस में दर्ज कराई थी, उसके साथ भी नौकरी से घर लौटते समय रात को ११ बजे आरोपी ने अश्लील हरकत की थी।
नया नगर पुलिस ने काशीमीरा लोकल क्राइम ब्रांच को इस सीरियल मोलिस्टिंग केस की जांच सौंप दी थी। सहायक पुलिस निरीक्षक प्रमोद वदाख ने एक टीम गठित कर आरोपी की तलाश शुरू की। पुलिस ने घटित हुए अपराध के घटनास्थल की सीसीटीवी फुटेज से संदिग्ध की फोटो निकालकर नया नगर परिसर में तलाश शुरू की। काफी मशक्कत के बाद एक दुकानदार ने आरोपी को पहचान लिया। दुकानदार ने पुलिस को बताया कि फोटो में जो शख्स है उसका नाम महफूज शेख (२१) है। वह घरों के खिड़की, ग्रिल दरवाजे रंगने का कार्य करता है। वारदात को अंजाम देने के बाद वह अपने गांव लखनऊ चला गया।
शुक्रवार को पुलिस को गुप्त सूचना मिली की शेख लखनऊ से आ गया है। पुलिस ने जाल बिछाकर उसे हिरासत में ले लिया। काशीमीरा लोकल क्राइम ब्रांच के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक व्यंकट आंधले द्वारा बताया कि कड़ाई से की गई पूछताछ में महफूज शेख ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। वह विगत दो वर्षों से राह चलते महिलाओं और बच्चियों के साथ इस तरह की हरकत किया करता था। नया नगर के दो वारदातों के अलावा भी उसने इस प्रकार के कई वारदात किए हैं। शेख को नया नगर पुलिस के हवाले कर दिया गया है।