दिवाली गुनाह!, गैर हिंदू की शिकायत पर अज्ञात पर केस दर्ज

कल पूरे देश में प्रकाश पर्व दिवाली मनाई गई। मगर इस त्योहार में पहले की तरह जोश व उमंग नहीं दिखा। महंगाई ने आम आदमी को पहले से ही परेशान कर रखा है। इसका असर बाजार में दिखा, जहां लोग आए और खरीददारी भी हुई पर पहले जैसी रौनक नहीं थी। दूसरी तरफ पिछले कुछ समय से हिंदुओं के तमाम पर्व-त्योहारों पर अदालत का कानूनी शिकंजा कसता जा रहा है। दिवाली जैसा पवित्र त्योहार भी इससे बच नहीं पाया। दिवाली के ठीक २ सप्ताह पहले सुप्रीम कोर्ट के एक पैâसले ने दिवाली मनानेवालों को मायूस कर दिया। कोर्ट ने दिवाली पर तमाम तरह की पाबंदियां लगा दी। ऐसे में आम आदमी के लिए पहले की तरह दिवाली मनाना गुनाह हो गया। हद तो तब हो गई जब पटाखे फोड़ने वाले एक शख्स के खिलाफ एक गैर हिंदू व्यक्ति ने मामला दर्ज करा दिया।
दिवाली खुशियों, रोशनी और आतिशबाजी का त्योहार है। इस त्योहार में लोग जमकर पटाखे फोड़ते हैं। इस दिवाली पर सुप्रीम कोर्ट ने रात आठ बजे से १० बजे तक पटाखे फोड़ने का आदेश दिया था। इस आदेश का पालन करना अब पुलिस के लिए अनिवार्य हो गया है। देश की राजधानी दिल्ली में रात १० बजे के बाद एक बच्चे के पटाखे फोड़े जाने के बाद जहां उसके मां-बाप को गिरफ्तार किया गया, उसी तरह मुंबई के मानखुर्द इलाके में ऐसी ही घटी एक घटना को लेकर एक गैर हिंदू व्यक्ति द्वारा की गई शिकायत पर स्थानीय ट्रॉम्बे पुलिस स्टेशन को २ अज्ञात बच्चों के खिलाफ मामला दर्ज करना पड़ा।
दिवाली के अवसर पर पटाखे फोड़नेवाले २ अज्ञात बच्चों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। एक गैर हिंदू युवक द्वारा शिकायत किए जाने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया है। मुंबई में नियमों के विपरीत पटाखे फोड़ने की यह पहली शिकायत मानी जा रही है। कोर्ट की पाबंदी ने मुंबईकरों के दिवाली का उत्साह पहले ही ठंडा कर दिया था ऊपर से महंगाई ने भी आम आदमी के हर्षोल्लास को कम कर दिया। इस कारण आम आदमी के लिए यह दिवाली फीकी साबित हुई।
बता दें कि पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाने के लिए पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने रात में सिर्फ २ ही घंटे पटाखे फोड़ने का आदेश दिया था। इसके साथ-साथ इस दिवाली ग्रीन पटाखे फोड़ने के भी निर्देश सुप्रीम कोर्ट ने दिए थे। पटाखों को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश पर पटाखा विक्रेता से लेकर नागरिक तक असमंजस में हैं। इसी असमंजस में देश की राजधानी दिल्ली और आर्थिक राजधानी मुंबई में कुछ जगहों पर तय समय के विपरीत पटाखे फोड़ने की शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई करनी शुरू कर दी है।
मानखुर्द के महाराष्ट्र नगर इलाके के एसपीपीएल कॉलोनी के बिल्डिंग नंबर १७ और १८ के बीच सड़क पर रात १२ बजे के बाद २ बच्चे पटाखे फोड़ रहे थे। इन्हें पटाखे फोड़ने से वहां रहनेवाले एक गैर िंहदू नागरिक ने मना भी किया। मना करने के बावजूद बच्चों ने पटाखा फोड़ना जारी रखा। इन पटाखों की आवाज ज्यादा होने पर उसने इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। इस शिकायत पर ट्रांबे पुलिस ने दो अज्ञात के खिलाफ १८८,३४ भादंवि की धारा सहित कलम ३३ महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। शिकायतकर्ता का कहना है कि पटाखे को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश से नागरिक जागरूक नहीं हैं इसलिए पुलिस को चाहिए अपने-अपने इलाके में नागरिकों को जागरूक करे।