दिवा में बनेगा उच्च शिक्षा का हब,  ११३ हेक्टेयर में आईआईटी, आईआईएम की मंजूरी

मुंबई, पुणे, बंगलुरु, हैदराबाद तथा नोएडा आदि शहरों की भांति ठाणे को भी उच्च शिक्षा का हब बनाने का वादा शिवसेना ने मनपा चुनावों में किया था। आईआईएम और आईआईटी जैसी उच्च शिक्षा के केंद्र के रूप में शहर की पहचान हो, इसके लिए शिवसेना का प्रयास लगातार जारी था। शिवसेना के इस भगीरथ प्रयास को सफलता मिल गई है। दिवा के खिड़काली स्थित ११३ हेक्टेयर जमीन के आरक्षण को बदलने का मनपा के प्रस्ताव को राज्य सरकार ने मंजूर कर लिया है।
उल्लेखनीय है कि उच्च शिक्षा की अनेक संस्थाएं मुबई, पुणे, बंगलुरु, हैदराबाद, दिल्ली तथा नोएडा आदि परिसरों में हैं। ठाणे जिले के विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के लिए मुंबई, पुणे या राज्य के बाहर जाना पड़ता और होस्टल में रहकर उन्हें अपनी शिक्षा पूर्ण करनी पड़ती है। विद्यार्थियों को न केवल विभिन्न प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है बल्कि खर्च भी बढ़ जाता है। इसको देखते हुए ठाणे मनपा के सर्व साधारण चुनाव के दौरान शिवसेना के वचननामे में शहर को शिक्षा का हब बनाने का वादा किया गया था। इस संबंध में शिवसेना नेता एवं पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने मनपा आयुक्त संजीव जैसवाल के साथ चर्चा की और खिड़काली स्थित ११३ हेक्टेयर क्षेत्र में उच्च शिक्षा का केंद्र बनाने का निर्णय लिया गया। जमीन का आरक्षण बदलने का प्रस्ताव मनपा की सर्व साधारण सभा में सर्व सम्मति से मंजूर कर लिया गया।
दिवा प्रभाग समिति स्थित खिड़काली परिसर की ११३ हेक्टेयर जमीन क्रीड़ा संकुल तथा हरित विभाग के लिए आरक्षित थी। इस आरक्षण को बदलने तथा शिक्षा हब के लिए आरक्षित करने का प्रस्ताव मनपा ने ९ अक्टूबर २०१६ को राज्य सरकार के पास मंजूरी हेतु भेज दिया था। शिवसेना द्वारा किए गए लगातार प्रयास के चलते राज्य सरकार ने मनपा के प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है। इस मंजूरी के बाद जमीन अधिग्रण का रास्ता भी अब साफ हो गया है। इस समय अनेक उच्च शिक्षण संस्थाएं मनपा के संपर्क में हैं।
वसई-अलीबाग मल्टीमॉडल कॉरिडोर से २ किमी की दूरी पर स्थित यह जगह जल यातायात, मेट्रो मार्ग तथा एमएमआरडीए ग्रोथ सेंटर जैसी अनेक विकास की योजनाओं से जुड़ी है इसलिए खिड़काली का यह क्षेत्र शिक्षा के हब के लिए योग्य है। ठाणे जिले के लाखों विद्यार्थियों के लिए वरदान साबित होनेवाले इस प्रस्ताव की मंजूरी देने के लिए पालक मंत्री एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के प्रति आभार व्यक्त किया है।