दिवा में रेल दुर्घटना

 छोटी बहन की मौत  बड़ी की हालत गंभीर
नजदीकी रिश्तेदार से मिलने आई दो बहनें उस समय दुर्घटना की शिकार हो गर्इं जब वे लघु शंका हेतु रेल पटरियों के पास गई हुई थी। कल्याण से सीएसटी जानेवाली फास्ट लोकल की चपेट में आकर छोटी बहन की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं बड़ी बहन को जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उल्लेखनीय है कि दिवा में दुर्घटनाओं का सिलसिला लगातार जारी है। पुणे की रहनेवाली दो सगी बहनें दिवा में अपने रिश्तेदार से मिलने आई थीं।
सोमवार की सुबह साढ़े ७ बजे के आसपास दिवा स्टेशन स्थित सेंट्रल केबिन के पीछे दोनों महिलाएं लघु शंका के उद्देश्य से गई थीं इसी दौरान दोनों कल्याण से सीएसटी की तरफ जानेवाली फास्ट लोकल की चपेट में आ गर्इं। छोटी बहन संगीता पवार (४५) की जहां घटनास्थल पर ही मौत हो गई, वहीं तुलसा बाई कांतिलाल सालुंके (५०) को सिर में गंभीर चोट लगने के कारण ठाणे जीआरपी ने इलाज के लिए दिवा स्टेशन स्थित जीवदानी अस्पताल मेंं भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने महिला की गंभीरावस्था को देखते हुए ठाणे के सिविल अस्पताल और फिर जेजे अस्पताल भेज दिया है। दोनों महिलाएं पुणे जिले के दौंड तालुका के यवत गांव की रहनेवाली बताई जा रही हैं।