देवरा का दम निरुपम पानी कम

जैसे-जैसे चुनावी माहौल गर्म होता जा रहा है, मनोरंजन जगत से ताल्लुक रखनेवाली शख्सियतों का सियासी आगाज भी तेज हो गया है। पिछले एक सप्ताह में कई सिने सितारों ने विभिन्न दलों का दामन थामा। सिलसिला लगातार जारी है। बुधवार को नब्बे के दशक की फेमस अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर दिल्ली आकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिली और उसके बाद पार्टी में विधिवत रूप से शामिल हो गर्इं। उसी दिन लखनऊ में भोजपुरी फिल्मों के दो सुपरस्टार रवि किशन और निरहुआ भी भाजपा में शामिल हुए। दो दिन पहले ही पूर्व सिने तारिका जयाप्रदा ने भी भाजपा को गले लगाया था।

कांग्रेस सूत्रों के अनुसार मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम उर्मिला को कांग्रेस शामिल करवाना चाहते थे पर वे सफल नहीं हुए थे। देवरा ने आते ही अपना दम दिखाते हुए कांग्रेस में शामिल करवा दिया। और निरुपम को पानी कम साबित कर दिया।

सूत्रों से पता चला है कि अभिनेत्री उर्मिला को कांग्रेस में शामिल कराने की पटकथा मुंबई के नए-नवेले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मिलिंद देवरा ने लिखी। दरअसल देवरा मुंबई में अपने वर्चस्व की चमक राहुल गांधी को दिखाना चाहते हैं। बुधवार को सुबह वह उर्मिला को लेकर दिल्ली पहुंचे और राहुल गांधी से मिलवाया।
उसके तुरंत बाद उन्हें कांग्रेस की सदस्यता दी गई। उसके बाद संजय निरुपम भी पीछे-पीछे दिल्ली पहुंचे। कहा जाता है कि देवरा-निरुपम दोनों के बीच सियासी मतभेद हैं इसलिए उर्मिला को कांग्रेस में शामिल कराने के लिए निरुपम से पूछा तक नहीं गया। उर्मिला के कांग्रेस में शामिल होने के बाद कयास लगने शुरू हो गए हैं कि उनको उत्तर मुंबई लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया जा सकता है क्योंकि इस सीट पर पिछले चुनाव में संजय निरुपम पराजित हो चुके हैं।