देश की सातवीं महिला फाइटर पायलट बनी प्रिया

राजस्थान के झुंझुनूं जिले के बेटे ही नहीं बेटियां भी दुश्मनों से लोहा लेने में पीछे नहीं हैं। हर क्षेत्र में जिले की बेटियों ने अपना नाम रोशन किया है। इसमें अब एक और बेटी का नाम जुड़ गया है। यह बेटी है पिलानी के पास घूमनसर कला गांव की प्रिया शर्मा। प्रिया अब वायु सेना के लड़ाकू विमान उड़ाकर दुश्मनों के दांत खट्टे करेगी। प्रिया हैदाराबाद में दो साल की ट्रेनिंग पूरी करने के बाद कल वह पासआउट हुई और उसे देश की सातवीं महिला फाइटर पायलट होने का गौरव प्राप्त किया।
बचपन से उड़ान भरने का सपना देख रही प्रिया शर्मा ने एमएनआईटी जयपुर से बीटेक किया और बीटेक करते ही एयरफोर्स में फाइटर पायलट बनने का आवेदन कर दिया। प्रिया के पिता मनोज कुमार भी एयरफोर्स में स्कवाड्रन लीडर हैं और फिलहाल बीकानेर में कार्यरत हैं। प्रिया के भाई अंशुल एम्स जोधपुर में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है। प्रिया ने एक-दो दिन में गांव आने की बात कही है। प्रिया कल वायु सेना में बतौर फाइटर पायलट शामिल हुर्इं। प्रिया फाइटर पायलट बननेवाली ७वीं महिला है। कल डुंडीगुल की एयरफोर्स अकादमी से १३९ वैâडेट पासआउट हुए। आपको बता दें कि झुंझुनूं के पापड़ा गांव की बेटी मोहना सिंह भी लड़ाकू विमान उड़ा रही है।