देश को दहलाने की साजिश ध्वस्त! आइसिस के इंडियन माड्यूल का पर्दाफाश

एनआईए की ओर से हिरासत में लिए गए आतंकी देश की कई मुख्य हस्तियों, प्रतिष्ठानों और दिल्ली के बड़े बाजारों को निशाना बनाने की तैयारी में थे। यही नहीं ये लोग अगले कुछ ही दिनों में कई जगहों पर बम धमाके या फिर फिदायीन हमला करने की तैयारी में थे। इसके लिए ये लोग रिमोट कंट्रोल बम और सुसाइड जैकेट तैयार करने में जुटे थे। एनआईए के आईजी ने प्रेस कॉन्प्रâेंस के दौरान यह पूरी जानकारी दी। एनआईए ने आतंकी आइसिस के नए इंडियन मॉड्यूल हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम का पर्दाफाश किया है। इस पूरी साजिश के पीछे मुफ्ती सुहैल को मास्टरमाइंड माना जा रहा है, जो मूल रूप से यूपी के अमरोहा जिले का रहनेवाला है। गिरफ्तार आतंकियों में वेल्डर और ऑटो चालक भी शामिल है।
उन्होंने बताया कि १६ संदिग्धों से पूछताछ के बाद १० लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह कार्रवाई राष्ट्रीय जांच एजेंसी और यूपी एटीएस ने मिलकर की है। एनआईए के मुताबिक गिरफ्तार किए गए लोगों में से ५ यूपी के और ५ दिल्ली के हैं। ये सभी लोग विदेश में बैठे एक हैंडलर के संपर्क में थे। एनआईए ने हैंडलर के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी देने से इंकार कर दिया। एनआईए के मुताबिक इन लोगों से एक देसी रॉकेट लॉन्चर बरामद हुआ है। इनके पास से १२० अलार्म क्लॉक मिली हैं, जिसे बम बनाने में इस्तेमाल करनेवाले थे। संदिग्धों में एक महिला भी है, जिससे पूछताछ की जा रही है। अभी कई और लोगों की गिरफ्तारी की जा सकती है। एनआईए के मुताबिक इन आतंकियों का मुखिया मौलवी सुहैल अमरोहा का है और दिल्ली के जाफराबाद में रहता था। वह एक मस्जिद में मौलवी था। आईएसआईएस से प्रभावित इस मॉड्यूल में भर्ती यूनिवर्सिटी में सिविल इंजीनियरिंग करनेवाला छात्र,
ऑटो ड्राइवर, मौलवी, गारमेंट्स का बिजनस करनेवाला युवक शामिल है। इनमें से ज्यादातर की आयु २० से ३० साल की है। संदिग्धों में एक महिला भी शामिल है। एनआईए के मुताबिक ये संदिग्ध व्हॉट्सऐप और टेलिग्राम पर एक-दूसरे से संपर्क करते थे। एनआईए ने बताया कि हमारे पास जो इनपुट्स हैं, उसके मुताबिक रिमोट कंट्रोल बम और फिदायीन हमलों में इनका मुख्य फोकस था। इसके लिए ये लोग बुलेट प्रूफ जैकेट्स बनाने में भी जुटे थे। ३ से ४ महीने पहले ही यह मॉड्यूल शुरू हुआ था। १०० से ज्यादा मोबाइल फोन भी बरामद हुए हैं। १३५ सिम कार्ड्स, कई लैपटॉप और मेमोरी भी बरामद की हैं।