दोमुंहा सांपों के सौदागर धराए!

२१ वीं सदीं में एक तरफ इंसान चांद-मंगल पर अपना आशियाना बनाने की तैयारी कर रहा है, वहीं अंधविश्वास में अंधे हुए कुछ लोग उल्लू एवं दोमुंहा सांप जैसे निर्दोष जीवों को अपने लालच का शिकार बना रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की यूनिट-८ ने दोमुंहा सांपों का सौदा करने आए २ तस्करों को गिरफ्तार किया है। बता दें कि यूनिट-८ के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अरुण पोखरकर को दोमुंहे सांप की बिक्री के लिए तस्करों के आने की सूचना मिली थी। अंधेरी-पूर्व में वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे स्थित मेट्रो स्टेशन के पास से यूनिट-८ के पीआई महेश तोगरवाड, पीएसआई प्रथमेश विचारे, अमित देवकर, लक्षम्ण वडरे, दत्तात्रेय मोहिते व हिंदूराव चिंचोलिकर की टीम ने उक्त संदिग्धों को हिरासत में लिया। अब्दुल सत्तार पटेल और शब्बीर रशीद शेख नामक उक्त आरोपी भिवंडी के रहनेवाले हैं। उनके पास से तलाशी में ४८ इंच लंबा तथा लगभग साढ़े तीन किलो वजनी दुर्लभ दोमुंहा सांप बरामद हुआ, जिसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में ३० लाख रुपए आंकी गई है। बताया जा रहा है कि तंत्र-मंत्र के लिए इन दो मुहां सांपों की भारी मांग है। तांत्रिक, लोगों को इन सर्पों की मदद से पैसों की बारिश कराने का झांसा देते हैं इसलिए अंधविश्वासी लोग इन सर्पों की मुंह मांगी कीमत अदा करने को तैयार रहते हैं।