" /> दो हिरणों का जोड़ा बिछड़ गया, हिरण की मौत

दो हिरणों का जोड़ा बिछड़ गया, हिरण की मौत

संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान से हिरणों का एक जोड़ा भटककर रिहायशी इलाके की तरफ चला आया था। अलग-अलग सोसायटियों के गेट की ग्रिलों में फंसकर घायल हुए इन हिरणों को बाद में वन विभाग की टीम अपने साथ ले गई थी। बोरीवली स्थित राष्ट्रीय उद्यान अस्पताल में दोनों का उपचार किया जा रहा था।हिरणों के उक्त जोड़ों में से नर हिरण की मौत हो गई है।
उल्लेखनीय है कि 8 जून की रात ग्रेंड स्कवेयर सोसायटी के सदस्यों की सूचना पर आपदा प्रबंधन तथा वन विभाग के अधिकारियों ने एक घायल हिरणी को बरामद किया था। सोसायटी के गेट में मादा हिरणी फंसकर घायल हो गई थी। मामूली रूप से घायल हिरणी को बोरीवली स्थित संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान अस्पताल में इलाज हेतु भेज दिया गया था। 9 जून की सुबह 7 बजे विभाग के अधिकारियों को घोडबंदर रोड, आनंद नगर स्थित ऋतु पार्क सोसायटी के गेट की ग्रिल में एक औऱ हिरण के फंसे होने की सूचना मिली थी। सोसायटी के मुख्य गेट की ग्रिल में फंसकर हिरण बुरी तरह से घायल हो गया था। गंभीर रूप से घायल हिरण का इलाज बोरीवली स्थित राष्ट्रीय उद्यान अस्पताल में चल रहा था। डॉक्टरों ने उसे बचाने का भरसक प्रयास किया लेकिन वे गंभीर रूप से घायल नर हिरण को बचाने में असफल रहे। दूसरे दिन हिरण की मौत हो गई। हिरणी को सही-सलामत बचा लिया गया है। ये जानकारी ठाणे वन क्षेत्रपाल नरेंद्र मुठे ने दी है।