धरोहरों का जतन करेगी मनपा -आदित्य ठाकरे के हाथों फ्लोरा फाउंटेन का लोकार्पण

 १२ वर्षों बाद शुरू हुआ फाउंटेन
 ढाई वर्षों से चल रहा था काम
किसी भी शहर में नागरिकों को खुली हवा में सांस लेने के लिए ऐसे पर्यटन स्थल की आवश्यकता होती है। दक्षिण मुंबई में बड़ी संख्या में ऐतिहासिक धरोहर हैं। उनका नूतनीकरण और जतन करना पर्यटन के दृष्टिकोण से आवश्यक है। कुछ धरोहर मनपा के अधीन तो कुछ पुरातन विभाग के अधीन आते हैं। मनपा अपने अधीन आनेवाले धरोहरों की सुंदरता बनाए रखने व उनका जतन करने के लिए प्रयासरत है। इन शब्दों में शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने अपने विचार व्यक्त किए।
नूतनीकरण किए गए फ्लोरा फाउंटेन का लोकार्पण कल शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने किया। इस मौके पर उन्होंने उक्त बातें कहीं। आदित्य ठाकरे ने जैसे ही फाउंटेन पर लगा बटन दबाया, वैसे ही इस फाउंटेन के दोनों छोर पर बने सिंह और डॉल्फिन की प्रतिकृति के मुंह से पानी का फुहारा बहना शुरू हो गया। इस लोकार्पण से हुतात्मा चौक का यह फ्लोरा फाउंटेन १२ वर्षों बाद एक बार फिर शुरू हो गया। चमचमाते सुंदर शिल्प और पानी के फुहारे देखकर लोग आकर्षित हो उठे। पिछले ढाई वर्षों से शुरू फ्लोरा फाउंटेन का नूतनीकरण कार्य दो चरणों में किया गया। पहले चरण में फव्वारे का काम हुआ जबकि दूसरे चरण में आस-पास की जगह का सौंदर्यीकरण किया गया।
इस नूतनीकरण में इंडियन नेशनल ट्रस्ट फॉर आर्ट्स एंड कल्चरल हेरिटेज संस्था की मदद ली गई। इस मौके पर शिवसेना नगरसेविका सुजाता सानप, नगरसेवक अनंत नर, ए विभाग के सहायक आयुक्त किरण दिघावकर, विभागप्रमुख पांडुरंग सकपाल आदि उपस्थित थे।