नए साल में ‘Raid’ एलर्ट

मुंबई में नए वर्ष के जश्न की रात को नशीला बनाने के लिए गुजरात से लाए गए मादक द्रव्य को कब्जे में लेने के बाद मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल और चौकन्नी हो गई है। इतना ही नहीं नए वर्ष के स्वागत में होनेवाली नशीली रेव पार्टियों पर रेड (छापा) करने के लिए एंटी नारकोटिक्स सेल के मुखिया ने अपने सभी यूनिट्स को अलर्ट कर दिया है यानी RAID अलर्ट कर दिया है। इसके चलते अब रेव पार्टियों पर न सिर्फ पैनी नजर रखी  जाएगी बल्कि हर कोण से वहां मादक पदार्थों की बिक्री न हो इसको लेकर पुलिस अधिकारी पूरी तरह से सतर्कता बरतेंगे। एंटी नारकोटिक्स सेल के सभी यूनिट्स ने उन सभी जगहों की लिस्ट तैयार कर ली है जहां-जहां रेव पार्टियां नशीली होनेवाली हैं। नारकोटिक्स सेल के उपायुक्त शिवदीप लांडे की मानें तो इन रेव पार्टियों में अधिकारी न सिर्फ सादे वेश-भूषा में वहां के कार्यकलापों पर पैनी नजर रखेंगे बल्कि पार्टी के रंग में घुलने के लिए वहां के पहनावे को भी अपनाकर नशीली रेव पार्टियों के ड्रग्स माफियाओं पर नकेल तक कसेंगे। 
बता दें कि कल मुंबई पुलिस के एंटी नारकोटिक्स सेल ने रेव पार्टियों और विदेशों में भेजने के लिए गुजरात से मुंबई लाई गई। एक हजार करोड़ रुपए की ‘फेंटानिल’ मादक पदार्थ जप्त की है। थर्टी फस्र्ट के पहले इतनी भारी मात्रा में मादक पदार्थ मिलने से नए वर्ष के स्वागत को लेकर होनेवाली पार्टियों पर एंटी नारकोटिक्स सेल सतर्वâ हो गई है। इन रेव पार्टियों पर नजर रखने के लिए एंटी नारकोटिक्स सेल ने एक फुलप्रूफ प्लान भी बनाया है।
हालांकि इस प्लान के बारे में नारकोटिक्स विभाग के अधिकारी बोलने से बच रहे हैं। पुलिस उपायुक्त शिवदीप लांडे ने बताया कि मुंबई सहित आसपास के इलाकों में कहां-कहां रेव पार्टियां होनेवाली हैं उन सभी जगहों को चयनित किया गया है। नारकोटिक्स के सभी यूनिट्स के अधिकारियों को अलर्ट कर दिया गया है। इन पार्टियों में अधिकारी सादे वेश में शामिल रहेंगे। इतना ही नहीं नशेबाजों पर नजर रखने के लिए जरूरत पड़ी तो अधिकारी पार्टी के ड्रेस कोड भी अपनाएंगे। नारकोटिक्स विभाग के सूत्रों पर भरोसा करें तो सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है। कोडवर्ड के जरिए नशेबाजों द्वारा सोशल मीडिया पर भेजे जानेवाले रेव पार्टियों के आमंत्रण को भी नारकोटिक्स के अधिकारी ट्रेक करेंगे। इसके अलावा ठाणे में भी पार्टियों पर नजर रखने के लिए ठाणे पुलिस के एंटी नारकोटिक्स सेल ने १५-१५ अधिकारियों की तीन टीम तैयार की है, इस टीम में नौजवान अधिकारियों को रखा गया है।