नगरविकास राज्यमंत्री की घोषणा, मिलेंगे मच्छर, नपेंगे ठेकेदार

मुंबई में चल रही मेट्रो योजनाओं सहित अन्य निर्माण कार्य की जगह पर बीमारी पैâलानेवाले मच्छर पाए गए तो विकासक व ठेकेदार नपेंगे। यह जानकारी कल विधान परिषद में राज्यमंत्री योगेश सागर ने दी।
मुंबई शहर में चल रही मेट्रो परियोजनाओं के कार्य की जगहों पर मच्छरों की उत्पत्ति को नष्ट करने के लिए मनपा, मेट्रो प्रशासन और ठेकेदारों की ओर से नियमित जांच व उपाय योजना की जा रही है। इस जांच के दौरान सरकारी और निजी परियोजनाओं की जगह पर बीमारी पैâलानेवाले मच्छरों की उत्पत्ति पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई करने की जानकारी नगरविकास राज्यमंत्री योगेश सागर ने दी। मुंबई में चल रहे मेट्रो निर्माण कार्य की जगहों पर जमा गंदे पानी के कारण बीमारी पैâलानेवाले मच्छरों के संबंध में कई सदस्यों ने प्रश्न पूछा था।
योगेश सागर ने कहा कि मुंबई शहर व उपनगर में चल रही मेट्रो परियोजनाओं की जगह पर मुंबई मेट्रो रेल कॉपोरेशन एजेंसी ने मच्छरों की उत्पत्ति को रोकने का कार्य शुरू किया है। इसके लिए मनपा और एमएमआरडीए ने स्वतंत्र यंत्रणा तैयार की है। उनकी तरफ से मलेरिया व डेंगी के मरीजों का रोज सर्वेक्षण किया जा रहा है। मनपा के अन्य विभागों से समन्वय कर संसर्गजन्य रोगों की रोकथाम के लिए सतर्कता बरती जा रही है। अभी तक डेंगी मच्छरों की उत्पत्ति पाए जानेवाली सोसायटियों, निजी निर्माण कार्य करनेवाले विकासक सहित विभिन्न १५१ लोगों को नोटिस जारी की गई है और उनसे १४ हजार रुपए जुर्माना भी वसूला गया है।