" /> नगरसेवक का स्टिकर लगाकर पहुंचा मुलुंड से उल्हास नगर : पति-पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज

नगरसेवक का स्टिकर लगाकर पहुंचा मुलुंड से उल्हास नगर : पति-पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज

पूरे देश मे बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर देश, प्रदेश की सरकारें उससे बचने के लिए प्रतिदिन नए-नए उपाय में लगी हैं। ऐसे में जनता है कि सरकार के द्वारा जारी उपायों को मानने को तैयार नहीं है, जिसकी मिसाल उल्हासनगर में देखने को मिली। उल्हासनगर पुलिस ने एक ऐसे व्यक्ति को उल्हासनगर कैंप नंबर-2 के मधुबन चौक पर पकड़ा। पकड़े गए व्यक्ति ने पुलिस को चकमा देने के लिए कार पर नगरसेवक का स्टिकर लगाया था। पत्नी और दो बच्चों के साथ वो मुलुंड से उल्हासनगर पहुंचा था। उल्हासनगर पुलिस ने धारा 144, जिलाधिकारी द्वारा प्रवेशबंदी, कोरोना संक्रमण जैसी तमाम सरकारी प्रतिबंधक कानूनों का उल्लंघन करने का मामला दर्ज कर आगे की कार्यवाही शुरू की है।
लालचंद्र चंदरलाल प्रेमानी (40) मुलुंड (पश्चिम) के नूनवाज अनमोडियम, फ्लैट नंबर 704 में रहता है। 20 अप्रैल, 2020 की शाम साढ़े पांच के करीब उल्हासनगर कैंप नंबर 2, मधुबन चौक पर ड्यूटी पर तैनात उल्हासनगर पुलिस  स्टेशन के गश्ती दस्ते ने लालचंद की नगरसेवक लिखी कार, जिसका नंबर एमएच 05/सी एम 3666 है, को रोककर जांच की। जांच के बाद पता चला कि वो अपनी पत्नी रोशनी (36) व दो बच्चों के साथ मुलुंड से उल्हासनगर  सपरिवार आया था। उल्हासनगर पुलिस ने लालचंद व उसकी पत्नी रोशनी के खिलाफ बिना किसी जायज कारण या अनुमति के मुलुंड से उल्हासनगर के कारण लॉक डाउन उल्लंघन, संचारबंदी, प्रवेशबंदी, आपदा प्रबंधन, संसर्गजन्य रोग प्रतिबंधक कानून सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। महिला सहायक पुलिस निरीक्षक अनुपमा प्र. खरे मामले की जांच कर रही हैं।