नसों में दौड़ेगा नैनो रोबोट, खून की कमियां करेगा दूर

`बड़ा है तो बेहतर है’ कि कहावत आपने सुनी ही होगी लेकिन अब जमाना नैनो (अतिसूक्ष्म) टेक्नोलॉजी का है। हमारे हर कार्यों को आसानी से वैâसे अंजाम दिया जाए, इस पर वैज्ञानिक निरंतर काम कर रहे हैं। वो दिन दूर नहीं जब आपकी बीमारी का सटीक इलाज भी रोबोट करेगा। वैज्ञानिकों ने एक ऐसा नैनो स्मार्ट रोबोट बनाया है जो न केवल आपके शरीर में प्रवेश करेगा बल्कि नसों से दौड़ते हुए आपके रोगग्रस्त ऊतकों तक दवा पहुंचाएगा।
बता दें कि अभी तक आपने चाय बनाने, घरेलू काम में हाथ बटाने व पढ़ाई में लोगों की मदद करनेवाले रोबोट के बारे सुना होगा लेकिन जल्द ही वैज्ञानिक एक ऐसा अतिसूक्ष्म रोबोट बना रहे हैं जो लोगों का उपचार करने के लिए मददगार साबित होगा। स्विट्जरलैंड के स्विस फेडरल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी लॉजेन (ईपीएफएल) और ईटीएच ज्यूरिख के शोधकर्ताओं ने बैक्टीरिया से प्रेरित होकर एक अत्यधिक लचीले बायोकंपैटिबल नैनो रोबोट को डिजाइन किया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इसके जरिए सीधे उस ऊतक तक दवा पहुंचाई जा सकेगी, जहां जरूरत होगी। इससे रोगी का सटीक व आसानी से उपचार मुमकिन होगा।
ऐसे बना यह रोबोट
इस नन्हें उपकरण को हाइ ड्रोजेल नैनोकंपोजिट से तैयार किया गया है, जिसमें चुंबकीय नैनोपार्टिकल्स होते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि इससे उन्हें विद्युत चुंबकीय क्षेत्र के माध्यम से नियंत्रित किया जा सकता है।
ये है खासियत
साइंस एडवांसेज नामक जर्नल में प्रकाशित इस तकनीक के बारे में बताया गया है कि यह आसानी से तरल पदार्थ के माध्यम से तैर सकता है और जरूरत के अनुसार अपने आकार को बदलने में भी सक्षम है। यह आसानी से संकरी रक्त वाहिकाओं में तैर सकता है और वो भी उतनी गति से जितनी जरूरत हो।