नाकाबंदी के डर से यू टर्न में उड़ा डाला, ब्लैक डे संडे

आर्थिक राजधानी मुंबई रविवार को हादसों का शहर साबित हुई। मुंबई में कल घटे चार बड़े हादसों के कारण संडे ब्लैक डे रहा। इन हादसों में सबसे बड़ा हादसा जकेरिया बंदर रोड पर हुआ, जहां एक मारुति चालक ने नाकाबंदी के डर से यू टर्न मारकर ६ लोगों को उड़ा डाला। इस हादसे में १८ वर्षीय एक युवक ने अपनी जान खो दी जबकि कार चालक सहित ७ घायल हैं। इसी के साथ सैर-सपाटे करने गए एक व्यक्ति की कल जुहू चौपाटी और एक अन्य व्यक्ति की मरीन ड्राइव पर मौत हो गई। यही नहीं रोड हादसे की चपेट में आए एक युवक को भी कल अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। इस तरह रविवार यानी संडे मुंबई के लिए ब्लैक डे साबित हुआ।
बता दें कि कल जकेरिया बंदर रोड पर आरोपी शहबाज इलियास अपनी पत्नी के साथ मारुति अर्टिका में सवार था। सामने पुलिस की नाकाबंदी देखकर आरोपी घबरा गया और उसने यू-टर्न मारा। यू-टर्न लेते समय आरोपी की गाड़ी उसके नियंत्रण के बाहर हो गई और बस स्टॉप के पास खड़े ६ लोगों को टक्कर मारकर ट्रक से जा भिड़ी। इस हादसे में एक की मौत हो गई जबकि आरोपी और उसकी पत्नी सहित पांच अन्य लोग घायल हो गए। मृतक की पहचान दर्पण दीपक पाटील (१८) के रूप में की गई है। घायलों को केईएम अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। हादसे में घायल हुए लोगों की पहचान कल्पेश प्रकाश धरसे (२५), स्वाति दीपक पाटील (४०), निधि दीपक पाटील (१२), गौरी महेश नंदावकर (४०), जय महेश मंडावकर (१३) के रूप में की गई है। मामला आरएके मार्ग पुलिस थाने के अंतर्गत दर्ज किया गया है। आरएके मार्ग पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भागवत बंसोड ने बताया कि नाकाबंदी के डर से आरोपी ने यू-टर्न मारा। इस बात की जांच की जा रही है कि आरोपी को नाकाबंदी से किसलिए डर था? हादसे में आरोपी गंभीर रूप से घायल है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
मरीन ड्राइव पर ११ वर्षीय की मौत
कल रविवार को छुट्टी मनाने के लिए मरीन ड्राइव गए भैरव रमेश बरीया के लिए भी संडे ब्लैक डे रहा। कल शाम सवा तीन बजे भैरव की सुंदर महल जंक्शन के पास समुद्र में डूबने से मौत हो गई।
जुहू पर ४० वर्षीय ने खोई जान
कल अंधेरी-पश्चिम के इस्कॉन मंदिर के पास स्थित जुहू सिल्वर बीच पर दोपहर करीब २ बजकर ३७ मिनट पर महेश मारुति शिंदे पानी में डूब गया। उसे कूपर अस्पताल भेजा गया। अस्पताल ले जाते समय उसकी रास्ते में ही मौत हो गई।