" /> नागपुर टू मुंबई : पार्सल में आया वेंटिलेटर

नागपुर टू मुंबई : पार्सल में आया वेंटिलेटर

24 घंटे के अंदर डोर टू डोर सेवा

कोरोना काल मे भारतीय डाक और मध्य रेलवे पार्सल सेवा ने मिलकर संयुक्त रूप से सेवा की एक नई मिसाल पेश की है। इंडिया पोस्ट रेलवे पार्सल सर्विस ने महज पार्सल द्वारा वेंटिलेटर 24 घंटे में नागपुर से ठाणे पहुंचाया। इस डोर टू डोर सेवा को महज 24 घंटे में ठाणे के मेंटल अस्पताल में 2 वेंटिलेटर भेज कर अंजाम दिया गया।

बता दें कि नागपुर की एक निजी कंप्यूटर कंपनी ने ठाणे के रीजनल मेंटल हॉस्पिटल में दो वेंटिलेटर भेजने के लिए लास्ट माइल कनेक्टिविटी की इस सेवा का उपयोग किया। कंपनी ने कोरोना वायरस के दौरान वेंटिलेटर के महत्व को ध्यान में रखते हुए वेंटिलेटर की खेप को नागपुर के बजाजनगर से 8 जून को उठाया गया और 24 घंटे के भीतर 9 जून को ठाणे मेंटल अस्पताल में पहुंचा दिया। वेंटिलेटर की इस खेप में कुल 6 पैकेट शामिल थे, जिसका वजन 134 किलो था। इस डोर टू डोर सेवा को अंजाम देने के लिए नागपुर के मख्य पार्सल पर्यवेक्षक शेखर बलेकर अहम भूमिका निभाई।

मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि कोविड-19 लॉकडाउन की वर्तमान स्थिति में व्यक्तियों और वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों को बड़े आकार की खेप को आवश्यक और अन्य वस्तुओं को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाना मुश्किल हो रहा है। सेंट्रल रेलवे द्वारा संचालित विशेष पार्सल ट्रेनों को ध्यान में रखते हुए, सेंट्रल रेलवे और महाराष्ट्र पोस्टल सर्कल ने इंडिया पोस्ट रेलवे पार्सल सेवा की पेशकश करके महाराष्ट्र राज्य के भीतर इंडिया पोस्ट और भारतीय रेलवे की क्षमताओं का तालमेल किया है। यह सेवा मुंबई, पुणे और नागपुर स्टेशनों के बीच से उपलब्ध है। इंडिया पोस्ट ग्राहकों के परिसरों से खेप उठा रहा है और मध्य रेलवे और डाक मेल मोटर सेवा द्वारा संचालित की जा रही विशेष पार्सल ट्रेनों के माध्यम से गंतव्य पर खेप पहुंचाता है।