नाणार का अध्यादेश रद्द किए बिना भाजपा से मत करो युति, परियोजना प्रभावितों की उद्धव ठाकरे से विनंती

नाणार परियोजना के भूमि अधिग्रहण अध्यादेश को रद्द किए बगैर भाजपा से युति मत करो, ऐसी विनती नाणार परियोजना प्रभावितोेंं ने शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे से कल की। नाणार परियोजना प्रभावितों ने कल ‘मातोश्री’ निवास स्थान पर उद्धव ठाकरे से मुलाकात कर अपनी समस्याओं को रखा। युति की चर्चा होगी तो प्रमुख रूप से नाणार अध्यादेश रद्द करने की मांग रखूंगा, ऐसा आश्वासन उद्धव ठाकरे ने इस मौके पर परियोजना प्रभावितों को दिया।
नाणार रिफाइनरी परियोजना का विरोध करनेवाले संगठनों के पदाधिकारियों ने उद्धव ठाकरे से मुलाकात करके चर्चा की। राजापुर में नाणार रिफाइनरी परियोजना का शुरू से ही स्थानीय लोगों ने विरोध किया। उद्धव ठाकरे नाणार में सभा लेकर ग्रामीणों से रूबरू हुए थे। परियोजना के लिए निकाले गए भूमि अधिग्रहण अध्यादेश को रद्द करेंगे, ऐसा कहते हुए उद्धव ठाकरे ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया था। शिवसेना नेता व उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने उच्च स्तरीय समिति से यह अनुरोध किया था परंतु समिति ने अब तक कोई निर्णय नहीं लिया है। समिति मुख्यमंत्री के आदेश की राह देख रही है, ऐसी जानकारी नाणार रिफाइनरी विरोधी संघर्ष समिति के अध्यक्ष अशोक वालम ने इस मौके पर दी।
इस संबंध में सांसद विनायक राऊत, विधायक राजन सालवी, शिवसेना सचिव मिलिंद नार्वेकर सहित रिफाइनरी विरोधी ग्रामीण समिति के अध्यक्ष कमलाकर कदम, जैतापुर अणु ऊर्जा विरोधी संघर्ष समिति के अध्यक्ष सत्यजीत चव्हाण, रिफाइनरी विरोधी शेतकरी व मच्छीमार समिति के सचिव भाई सामंत, विधानसभा संपर्क प्रमुख चंद्रप्रकाश नकाशे, शिवसेना राजापुर तालुका संपर्क प्रमुख दिनेश जैतापकर, तालुका प्रमुख प्रकाश कुवलेकर, तात्या सरवणकर, तारल के सरपंच बाला हलदणकर, कुंभवडे के सरपंच पंढरी मयेकर और परियोजना प्रभावित उपस्थित थे।
शिवसेना के लिए युति की अपेक्षा नाणारवासी महत्वपूर्ण
नाणार रिफाइनरी परियोजना रद्द होनी ही चाहिए। शिवसेना इस भूमिका पर दृढ़ है और यह विनाशकारी नाणार कदापि नहीं होने देगी, ऐसा उद्धव ठाकरे ने परियोजना प्रभावितों से कहा। यह जानकारी सांसद विनायक राऊत ने दी। शिवसेना को युति की अपेक्षा नाणारवासी महत्वपूर्ण है। ऐसा उद्धव ठाकरे ने प्रभावितों से कहा, ऐसा राऊत ने बताया। नाणार रिफाइनरी परियोजना का विरोध करनेवाले संगठनों के पदाधिकारियों ने उद्धव ठाकरे से मुलाकात करके चर्चा की।