नार्थ ईस्ट हो या नार्थ वेस्ट कांग्रेसियों को नहीं लगा कोई बेस्ट!

मुंबई लोकसभा चुनाव की छह सीटों पर कांग्रेस को बड़ी उम्मीद है। इतना ही नहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को मुंबई सहित महाराष्ट्र से बहुत उम्मीद है, परंतु मुंबई में कांग्रेस-राकांपा ने जिन उम्मीदवारों को टिकट दिया है, चाहे नार्थ ईस्ट के संजय पाटील हों या नार्थ वेस्ट के संजय निरुपम हों, कांग्रेसियों को कोई भी उम्मीदवार बेस्ट नहीं लगा। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री ने यह दावा किया है। उक्त नेता से इस संवाददाता ने पूछा कि कांग्रेस के स्टार प्रचारक की सूची में आपका नाम है, जब आपको नार्थ-वेस्ट में प्रचार के लिए बुलाया जाएगा तो नहीं जाएंगे? इस पर कांग्रेसी नेता ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि नहीं! स्टार प्रचारक मुंबई तक सीमित नहीं है। पूरे महाराष्ट्र में स्टार प्रचारक की आवश्यकता है। स्टार प्रचारक के रूप में महाराष्ट्र के लिए जो उत्तरदायित्व दिया गया है, उसको मैं पूरा करूंगा परंतु नार्थ ईस्ट व नार्थ वेस्ट में पैर नहीं रखूंगा क्योंकि दोनों स्वयं सक्षम हैं, उन्हें अन्य किसी कांग्रेसी नेता की जरूरत नहीं है। एक अन्य कांग्रेस के विधायक ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद विधानसभा का चुनाव होनेवाला है। अपने विधानसभा क्षेत्र तक कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार को जिताने का प्रयास करूंगा परंतु कांग्रेस प्रत्याशी से जनता कितना खुश है? इस पर निर्भर करता है। कांग्रेस पार्टी ने मुंबई वेस्ट से जिस व्यक्ति को टिकट दिया है उसका काम करना असंभव है क्योंकि वे किसी भी सूरत में कांग्रेस का बेस्ट उम्मीदवार नहीं हैं। बता दें कि मुंबई ईस्ट से राकांपा ने संजय पाटील को उम्मीदवार बनाया है। संजय पाटील के बारे में भी कांग्रेसियों की ऐसी विचारधारा है तो कांग्रेस-राकांपा की नैया मुंबई लोकसभा की सीटों पर पार होती नहीं दिखाई दे रही है।