नाला करेगा गड़बड़ `घोटाला’!

भिवंडी के जब्बार कंपाउंड इलाके का चार किमी लंबा नाला अभी भी सफाई होने की बाट जोह रहा है। सफाई के अभाव में पूरा नाला कचरे से पटा पड़ा है। लिहाजा उक्त इलाके के लोगों में अभी से बरसात के दौरान पानी भरने भय सता रहा है। मतलब नाला बारिश में गड़बड़ `घोटाला’ कर सकता है। उक्त नाले को मनपा प्रशासन द्वारा ८० प्रतिशत सफाई करने का दावा खोखला साबित कर रहा है।
मालूम हो कि भिवंडी मनपा खुद बरसात से पहले गटर-नाले की सफाई ७० लाख रुपए खर्च कर करवा रही है। अब जब बारिश सिर पर है मनपा प्रशासन ८० फीसदी सफाई का दावा कर रहा है लेकिन मनपा प्रशासन का उक्त दावा स्थानीय जब्बार कंपाउंड इलाके में पूरी तरह से खोखला साबित हो रहा है। स्थानीय लोगों ने बताया कि मनपा के प्रभाग समिति एक अंतर्गत आनेवाले जब्बार कंपाउंड में मिल्लत नगर पहाड़ी से निकला दस फुट चौड़ा व दस फुट गहरा नाला तनवीर होटल, सुल्तान होटल, फरहान होटल से किदवई नगर होते हुए रोजी होटल के बाद सागर प्लाजा से गैलेक्सी टाकीज तक चार किमी लंबा है। पूरा नाला कचरे से पटा पड़ा है। साथ ही नाले पर लगे लोहे के स्ौांरे चेंबर खुले हैं। स्थानीय लोगों ने नाले की बारिश से पहले पूरी तरह सफाई करने की मांग मनपा के अतिरिक्त आयुक्त अशोक रणखांव से की। अतिरिक्त आयुक्त रणखांव ने संबंधित विभाग के उपायुक्त व प्रभाग अधिकारी बालाराम जाधव को तत्काल प्रभाव से नाले की सफाई के साथ टूटे चेंबरों को दुरुस्त करने का आदेश दिया है।