" /> निजी अस्पताल ने नहीं किया भर्ती : गर्भवती महिला ने गंवा दी जान

निजी अस्पताल ने नहीं किया भर्ती : गर्भवती महिला ने गंवा दी जान

मुंब्रा स्थित निजी अस्पतालों ने एक गर्भवती महिला को केवल इसलिए अस्पताल में भर्ती नहीं किया क्योंकि महिला के पास कोरोना जांच की रिपोर्ट नहीं थी। निजी अस्पतालों की इस करतूत के कारण गर्भवती महिला ने अपनी जान गंवा दी। ठाणे मनपा अधिकारियों की शिकायत पर मुंब्रा पुलिस स्टेशन में बिलाल, प्राईम क्रिटी केअर और युनिवर्सल अस्पताल के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। अब तक इस मामले में एक भी गिरफ्तारी नहीं की गई है।
बता दें कि मुंब्रा स्थित ठाकुरपाड़ा परिसर में रहनेवाली अस्मा मेहंदी (26) गर्भवती थीं। 26 मई को दिन के समय अचानक अस्मा के पेट में दर्द शुरू हो गया। दर्द शुरू होते ही अस्मा के परिवारवाले उन्हें ऑटोरिक्शा में बैठाकर कौसा स्थित बिलाल अस्पताल ले गए लेकिन कोरोना जांच रिपोर्ट न होने के कारण अस्पताल प्रशासन ने उन्हें भर्ती करने से साफ मना कर दिया। जिसके बाद अस्मा को प्राइम क्रिटी केयर अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां भी यही कारण बताकर अस्मा को भर्ती नहीं किया गया और 30 मिनट बाद अस्मा ने ऑटोरिक्शा में ही दम तोड़ दिया। ऐसी ही एक घटना 25 मई के दिन मेहक खान (25) के साथ घटी थी, जिसमें यूनिवर्सल अस्पताल ने महिला के पास कोरोना जांच रिपोर्ट न होने का कारण बताकर उन्हें अस्पताल में भर्ती नहीं किया था। ठाणे मनपा अधिकारियों की शिकायत पर तीनों अस्पतालों के खिलाफ मामला मुंब्रा पुलिस स्टेशम में दर्ज किया गया है। आगे की जांच की जा रही हैं।