नियम तोड़ फूड डिलिवरी, ७ दिन में ७०० धराएं

आज-कल जोमैटो, स्विगी, उबर ईट्स और फूड पांडा जैसे अग्रणी ई-कॉमर्स फूड डिलिवरी प्लेटफॉर्म्स से घर बैठे खाना मंगाने का चलन काफी बढ़ गया है। ग्राहकों को सुपर फास्ट डिलिवरी पहुंचाने के चक्कर में न जाने कितने यातायात नियमों का उल्लंघन फ़ूड डिलिवरी करनेवाले बाइकर्स द्वारा किया जाता है। महज ७ दिन में ट्रैफिक पुलिस ने यातायात नियम तोड़नेवाले ७०० बाइकर्स से जुर्माना वसूला है।
बता दें कि फ़ूड डिलिवरी करनेवाले बाइकर्स के खिलाफ ट्रैफिक पुलिस को कई बार शिकायतें की गर्इं। झटपट फूड डिलिवरी करने के चक्कर में बाइकर्स फुटपाथ पर से भी बाइक दौड़ा देते हैं। इसी के साथ नो पार्किंग क्षेत्र में पार्किंग करने, सिग्नल जंपिंग, रैश ड्राइविंग, नो एंट्री में ड्राइविंग करने और अन्य यातायात नियमों को ताक पर रखनेवाले बाइकर्स के खिलाफ मुहिम चलाकर ट्रैफिक पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है। मुहिम के पहले ही दिन ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करनेवाले १७४ बाइकर्स को धर दबोचा गया। इतना ही नहीं मुहिम चलाने के पहले ही ट्रैफिक पुलिस ने सभी फूड डिलिवरी कंपनियों के प्रतिनिधि को ट्रैफिक नियमों की नियामवली दी थी, इसके बावजूद बाइकर्स बाज नहीं आ रहे हैं। मुंबई ट्रैफिक पुलिस के संयुक्त आयुक्त अमितेश कुमार ने बताया कि यदि बाइकर्स बार-बार गलती दोहराते हैं तो उनका लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा। इसी के साथ हमने सभी कंपनियों से कह दिया है कि मस्तीखोर बाइकर्स को डिलिवरी का काम न दें।