" /> निराशा का कारण

निराशा का कारण

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने पहली बार आईसीसी टी२० विश्व कप फाइनल में जगह पक्की की है। कप्तान हरमनप्रीत कौर इस उपलब्धि से बेहद खुश हैं और अब खिताब जीतकर ही भारत लौटना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि अगर वह विश्व कप जीतकर भारत लौटेंगी तो भारत में उनको बहुत सारा प्यार मिलने वाला है। इंग्लैंड के खिलाफ खेला जाने वाला पहला सेमीफाइनल मुकाबला बारिश की वजह से रद्द हो गया। भारत ने ग्रुप ए में टॉप पर रहते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई थी जिसकी वजह से उसे फाइनल का टिकट मिला। इंग्लैंड ग्रुप बी में दूसरे स्थान पर रही थी जिसकी वजह से वो बिना खेले ही टूर्नामेंट से बाहर हो गई। हरमनप्रीत कौर ने फाइनल में पहुंचने के बाद कहा, `मेरे माता-पिता यहां मौजूद हैं और वो आज का मैच देखना चाहते थे। दुर्भाग्य की बात है कि उनको आज का यह मुकाबला देखने नहीं मिला। यह पहला मौका होता जब वो लोग मुझे खेलते हुए देखने वाले थे। जब मैं स्कूल में थी तब पिता ने मेरा खेल देखा था। मेरी मां ने तो कभी भी मुझे खेलते हुए लाइव नहीं देखा।