निरुपम की अध्यक्ष पद से हकालपट्टी

हमेशा विवादों में रहे मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम की आखिर कल हकालपट्टी कर दी गई। उनकी जगह पर मिलिंद देवरा को मुंबई कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया है। हालांकि संजय निरुपम को मुंबई उत्तर-पश्चिम लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवारी दी गई है। बता दें कि संजय निरुपम के मुंबई अध्यक्ष बनने के बाद से ही उनके मनमानी कारोबार के चलते मुंबई कांग्रेस में जमकर गुटबाजी शुरू हो गई थी। स्व. गुरुदास कामत से लेकर कृपाशंकर सिंह, नसीम खान, प्रिया दत्त, मिलिंद देवरा आदि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता उनसे नाराज थे। मुंबई कांग्रेस में चल रही गुटबाजी के चलते मिलिंद देवरा ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी व सोनिया गांधी से स्पष्ट कर दिया था कि निरुपम के अध्यक्ष पद पर रहते हुए मैं लोकसभा चुनाव नहीं लड़ सकता हूं। इसके बावजूद मिलिंद देवरा और प्रिया दत्ता को कांग्रेस पार्टी ने टिकट दिया था। नसीम खान, कृपाशंकर सिंह, जनार्दन चांदूरकर आदि ने स्पष्ट शब्दों में पार्टी हाईकमान को बता दिया था कि निरुपम के रहते मुंबई लोकसभा की एक भी सीट नहीं निकलेगी। इतना ही नहीं प्रचार करने से भी उक्त नेताओं ने अप्रत्यक्ष रूप से इंकार कर दिया था, ऐसी राजनीतिक गलियारे में चर्चा है। पार्टी हाईकमान ने संजय निरुपम की मुंबई अध्यक्ष पद से हकालपट्टी कर जहां निरुपम विरोधियों को शांत कर दिया, वहीं निरुपम को मुंबई उत्तर-पश्चिम लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र की सीट देकर निरुपम को भी खुश कर दिया।