नीरव के बाद पीएनबी पर झारखंडी चोरों की नजर

हीरा व्यवसाई नीरव मोदी द्वारा १४ हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का चूना लगाए जाने से देश के प्रमुख बैंकों में शामिल पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) की कमर पहले ही टुट चुकी है लेकिन इसके बावजूद पीएनबी पर से लूटेरों की नजर हट नहीं रही है। इसका उदाहरण मुंबई के एमआईडीसी इलाके में देखने को मिला, जहां झारखंड़ी लुटेरों ने पीएनबी का एटीएम लूटने की कोशिश की। एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरों पर रंगीन स्प्रे मारकर लुटेरों ने अपनी पहचान छिपाने की कोशिश की थी लेकिन वे पुलिस के चंगुल से बच नहीं पाए।
बता दें कि २९ दिसंबर को अंधेरी-पूर्व के मिलिट्री रोड स्थित पीएनबी बैंक सोसाइटी में लगी पीएनबी की एटीएम मशीन को तोड़ने का प्रयास किया गया था। भोर में ३.३० से ४ बजे के बीच एटीएम में घुसे लुटेरों ने कैमरे पर रंगीन पेंट स्प्रे कर दिया और एटीएम मशीन तोड़ने की नाकाम कोशिश की। इस मामले में एमआईडीसी पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक नितीन अलकनुरे के मार्गदर्शन में पीआई (क्राइम) केदार पवार और उनके सहयोगियों ने गुप्त सूचना के आधार पर केशव पंडित एवं दिनेश यादव नामक दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। दोनों आरोपी झारखंड के गिरीडीह जिले के निवासी हैं। मुंबई के साकीनाका इलाके में  रहनेवाले आरोपी ऑटो रिक्शा चलाकर जीवन यापन करते थे।