पकिस्तानी किडनी पर चीनी डाका!, चाइनीज शौहर की शरारत में बिक रही बेटियां

दुनिया चीन के माल से पटी पड़ी है। लेकिन खुद चीन के शरीर में धड़कता दिल, काम करती किडनी, फंक्शनल लीवर अब उसका नहीं है। इसके लिए पाकिस्तानी दुल्हनों के अंगों पर चीन डाका डाल रहा है। इसका जरिया बन रहे हैं चीनी शौहर जो पाकिस्तान की बेटियों को खरीद रहे हैं और उनसे शरारत कर उनके अंग-प्रत्यंगों का चीन में व्यापार कर रहे हैं।
चीन पाकिस्तान में वन रोड वन बेल्ट (ओबोर) के जरिए घुसा, उसने कंगाली से जूझ रहे पाकिस्तान को कर्ज दिया और अब सरेआम उसकी बेटियों की इज्जत से खेल रहा है। चीन से पाकिस्तान आए इंजीनियर, मजदूर आदि यहां पाकिस्तानी परिवारों को एक लाख रुपए नकद देकर और हर महीने के चालीस से पचास हजार रुपए देने का वादा करके उनकी बेटियों से शादी रचा रहे हैं। इसके लिए चीनी दूल्हे इस्लाम कबूल कर रहे हैं। पाकिस्तानी मीडिया के एक िंस्टग ऑपरेशन ने जब इसका खुलासा किया तो पाकिस्तान को पता चला कि ये चीनी दामाद उनकी बेटियों को चीन ले जाकर अमीरों को बेच रहे हैं। इसमें कई युवतियों के अंगों का सौदा वहां बेरहमी से हो रहा है। चीन में पाकिस्तान की इन बेटियों की गुहार सुननेवाला कोई नहीं है। पाकिस्तान की अस्मत पर चीनी डाके के खिलाफ अब गुस्सा पैदा होने लगा है लेकिन पाकिस्तानी सरकार को चीन ने कर्ज देकर हाइजैक कर लिया है, जबकि उसकी ओबोर योजना ने विकास के सुनहरे सपने दिखाकर मानव तस्करी का नया रूट शुरू कर दिया है।