पटरी पर ‘पब्लिक जाम’

कलवा खाड़ी पुल के रुके काम और ट्रैफिक की समस्या से बचने के लिए स्थानीय लोग कलवा से ठाणे रेलवे स्टेशन तक जान हथेली पर रखकरआते हैं। ये राहगीर रेलवे ट्रैक पर चलकर यात्रा करते हैं, जिस वजह से पटरी पर ‘पब्लिक जाम’ देखने को मिलता है।
बता दें कि पिछले ४ वर्षों से खाड़ी का पुल का काम बेहद धीमी गति से शुरू है। जिस वजह से इस मार्ग पर रोजाना ट्रैफिक की समस्या देखने को मिलती है, ऐसे में यात्री अपना मार्ग बदलकर सड़क से न जाकर पटरियों पर चलते नजर आ रहे हैं। पटरियों पर चलना बेहद खतरनाक है लेकिन दीघा और विटावा के यात्री ट्रैफिक की समस्या से बचने के लिए पटरियों से यात्रा करते हैं। विटावा में रहनेवाले कैलाश रावत ने बताया कि पिछले १५ वर्षों से मैं यहीं रह रहा हूं। पहले इतनी ट्रैफिक की समस्या नहीं होती थी लेकिन जब से ब्रिज का काम शुरू है ट्रैफिक की समस्या बढ़ती ही जा रही है। मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी एके जैन ने बताया कि कल्याण से सीएसएमटी तक पटरियों के बगल में दीवार बनाने का कार्य शुरू है। एक बार काम पूर्ण होते ही कोई भी नागरिक पटरियों पर चल नहीं पाएगा। ठाणे मनपा के जनसंपर्क अधिकारी संदीप मालवी ने बताया कि काम अच्छा करने के लिए वक्त लग रहा है और जल्द ही ब्रिज का काम पूर्ण हो जाएगा।