पत्नी को 41 बार चाकुओं से गोदा,  खोपड़ी को पाने से बाहर  निकाला

गुरुग्राम। कोई व्यक्ति अपनी पत्नी के तानों से इतना तंग व क्रोधावेश में पत्नी के सिर के इतने टुकड़े कर दे कि उसकी खोपड़ी बाहर आ जाए। यह दिल दहला देनेवाली घटना हरियाणा के गुरुग्राम में घटित हुई है। जहां एक शख्स ने अपमान और तानों से तंग आकर अपनी बीवी को बेरहमी के साथ मौत के घाट उतार दिया। आरोपी ने अपनी पत्नी पर चाकू से एक नहीं दो नहीं बल्कि ४१ बार वार किए। उसका गुस्सा यहीं नहीं थमा। उसने लोहे के पाने से अपनी पत्नी के सिर पर इतनी बार वार किए कि उसका दिमाग खोपड़ी से बाहर निकल आया।

दिल दहला देने वाली हत्या की ये वारदात गुरुग्राम के सेक्टर-५ थाना क्षेत्र की है। जहां अशोक विहार फेस-१ इलाके में आरोपी ने हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया। दरअसल, दिल्ली के पटेल नगर के निवासी २४ वर्षीय वंशिका उर्फ नेहा की शादी वर्ष २०१७ में गुरुग्राम निवासी पंकज भारद्वाज के साथ हुई थी। एक साल तक सब ठीक ठाक चल रहा था। लेकिन वंशिका के घरवालों का दखल उनकी जिंदगी में ज्यादा होने लगा था।

पुलिस के मुताबिक हत्या के इस मामले में आरोपी पति पंकज और उसके साथी नसीम को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ के दौरान पंकज ने बताया कि शादी के कुछ दिनों बाद से ही उसकी पत्नी की बर्ताव बदल गया था। वो बात-बात पर उसकी बेइज्जती करती थी। उसके साथ बुरा व्यवहार करती थी। वो पंकज की बात मानने के बजाय केवल अपने मायके वालों के कहने पर चलती थी।

पंकज ने उसे समझाने की बहुत कोशिश की लेकिन वो नहीं मानी। इसी बात से पंकज का मन दुखी रहने लगा। उसे अपनी पत्नी से नफरत होने लगी। वो बेइज्जती का बदला लेने की फिराक में था। इसी के चलते रविवार को पंकज ने अशोक विहार फेस-१ स्थित मकान में अपनी पत्नी वंशिका उर्फ नेहा को चाकू से गोद डाला।

पंकज ने वंशिका पर एक बाद एक ४१ बार चाकू से वार किए। वो लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ी। लेकिन इस पर भी पंकज का गुस्सा शांत नहीं हुआ। उसने लोहे के एक पाने से वंशिका के सिर पर कई बार वार किए। जिससे उसकी खोपड़ी तक टूट गई और दिमाग बाहर निकल आया।

पुलिस ने इस संबंध में वंशिका के पति पंकज और उसके परिवार के तीन अन्य सदस्यों को नामजद किया है। साथ ही आरोपी पंकज के साथी नसीम अहमद को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि नसीम कत्ल की इस साजिश में शामिल था। वो चाकू खरीदने से लेकर कत्ल तक पंकज का सहयोगी रहा।

पुलिस ने आरोपी पंकज और नसीम के अलावा पंकज के पिता विजय कुमार, मां बालेश देवी और उसके भाई हैप्पी को भी इस साजिश में आरोपी बनाया है। पंकज के पिता विजय कुमार एक स्थानीय दैनिक अखबार के संपादक और प्रकाशक भी है। घटना के बाद से ही पंकज के घरवाले फरार हैं। उधर, वंशिका के पिता महेश शर्मा का आरोप है कि शादी के बाद से उनकी बेटी को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।