" /> परिवहन विभाग ने बालू से लदी ओवरलोड ९ ट्रकों को किया सीज

परिवहन विभाग ने बालू से लदी ओवरलोड ९ ट्रकों को किया सीज

अयोध्या क़े तहसील सदर के मया ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत शेरवा घाट में बेख़ौफ़ चल रहे बालू घाट पर परिवहन विभाग और पुलिस विभाग के संयुक्त टीम की छापेमारी में अवैध रूप से बालू से लदी ओवरलोड ९ ट्रकों को सीज कर दिया गया। रात्रि के २बजे तक चली कार्यवाही में एआरटीओ एसडी सिंह थाना गोसाईगंज के सब इंस्पेक्टर राम प्रकाश सिंह एसआई विजय गुप्ता हमराही उमेश यादव आदि दलबल सहित शामिल थे। एसडी सिंह एआरटीओ ने खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि अभी बालू से भरी ओवरलोड ९ ट्रकों को सीज किया जा चुका हैं और यह कार्यवाही आगे भी जारी रहेगी। किसी भी कीमत पर ओवरलोड वाहन चलने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

मालूम हो कि बिगत वर्षो में कभी भी घाघरा नदी की कटान क्षेत्र में आ रही शेरवा घाट ग्राम सभा में बालू खदान का ठेका नहीं किया जाता था। इस वर्ष नदी खुदाई के दौरान बनाए गए बालू लाट का केवल बालू उठान का ठेका हुआ था।जिसको कार्यदाई संस्था पालीवाल एंड ब्रदर ने ले रखा है। जिस के आड़ में रातों-रात अवैध खदान का कार्य चल रहा है और सैकड़ों ट्रक रात में लोड कर दी जाती हैं। ओवरलोड ट्रको के आवागमन से महबूबगंज बाजार से श्रृंगी ऋषि आश्रम और शवदाह स्थल शेरवाघाट को जाने वाला एकमात्र संपर्क मार्ग गड्ढे में इस कदर तब्दील हो गया कि जिसे देखने में लगता ही नही कि यह कभी पिच मार्ग भी था।गड्ढे को भरने के लिए कार्यदायी संस्था द्वारा ईंटों के टुकड़े डाल दिए गए हैं। लोगो ने समस्याओं से तंग आकर ग्राम सभा के संभ्रांत व्यक्तियों की बैठक बुलाई गई। जिसमें अवैध खनन पर लोगो ने गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहाकि यदि इस तरह खनन चलता रहा तो कई गांवों का अस्तित्व ही भविष्य में खतरे में पड़ जाएगा।मामले में २२ फरवरी को ग्राम प्रधान दिलीप कुमार विमल ले मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत भी दर्ज कराई थी लेकिन ३ सप्ताह बीत जाने के बावजूद भी आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। घाट आज भी पूर्व की भांति चल रहा है। जिसके कारण उत्पन्न समस्याओं के चलते स्थानीय वासिंदो सहित पौराणिक स्थल श्रृंगी ऋषि आश्रम पर आने-जाने वाले श्रद्धालुओं का जीना दुश्वार हो गया है।