" /> परे ने जारी किया बयान : अफवाहों से रहो सावधान

परे ने जारी किया बयान : अफवाहों से रहो सावधान

नहीं तैयार की आवश्यक सेवाओं से जुड़े कर्मचारियों की कोई भी सूची

हाल ही में सोशल मीडिया पर एक अफवाह फैली थी कि पश्चिम रेलवे ने उन आवश्यक कर्मचारियों की एक सूची तैयार की है, जो चयनित उपनगरीय ट्रेन सेवाओं में यात्रा कर सकते हैं। परंतु पश्चिम रेलवे ने एक बयान जारी कर यह स्पष्ट किया है कि यह तथ्यात्मक रूप से गलत है।
पश्चिम रेलवे ने बयान जारी कर कल स्पष्ट किया है कि ऐसी कोई आधिकारिक सूची सार्वजनिक रूप से परे द्वारा तैयार या जारी नहीं की गई है। ग्राउंड स्टाफ को संबंधित प्राधिकरण द्वारा केवल एक आंतरिक संचार पत्र जारी किया गया था, ताकि राज्य सरकार द्वारा तय किए गए परे की लोकल ट्रेनों में यात्रा करने के लिए आवश्यक सेवाओं के कर्मचारियों को अनुमति दी जा सके। बयान में यह भी कहा है कि 15 और 16 जून, 2020 को अंतिम मीडिया अपडेट और ट्वीट में पहले ही यह साफ कर दिया गया था, यह फिर से दोहराया गया है कि ये चयनित उपनगरीय सेवाएं सामान्य यात्रियों/जनता के लिए नहीं होंगी और आवश्यक कर्मचारियों के लिए केवल राज्य सरकार द्वारा चयनित संस्थान के कर्मचारी ही सफर कर सकते हैं। इसमें यह भी स्पष्ट किया गया है कि परे केवल राज्य सरकार द्वारा तय की गई सूची के कार्यान्वयन को सुनिश्चित कर रहा है और राज्य सरकार द्वारा जारी मूल सूची में रेलवे द्वारा एक भी अतिरिक्त श्रेणी को जोड़ा या बदला नहीं गया है। यह भी स्पष्ट किया गया है कि आवश्यक रेल कर्मचारियों के लिए पहले भी वर्कमैन स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही थीं और ये वर्कमैन स्पेशल ट्रेनें अभी भी संचालित की जा रही हैं। इन ट्रेनों में एकमात्र बदलाव किया गया है, जिसमें पहले काम करनेवाले विशेष ट्रेनों को कोचिंग स्टॉक के साथ चलाया जा रहा था, लेकिन अब इन्हें ईएमयू स्टॉक से बदल दिया गया है। इसलिए उस आंतरिक संचार पत्र में, किसी भी प्रकार के भ्रम से बचने के लिए, सहयोगी स्टाफ को संबंधित ग्राउंड स्टाफ से अवगत कराने का भी उल्लेख किया गया है। परे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी रविंद्र भाकर ने बताया कि पश्चिम रेलवे एक बार फिर स्पष्ट करता है कि अन्य श्रेणियों के यात्री, जो इन चयनित उपनगरीय सेवाओं द्वारा यात्रा के लिए चिंता कर रहे हैं, उनसे अनुरोध है कि वे केवल राज्य सरकार के माध्यम से अपने अनुरोधों को लागू करें। संबंधित नगर निगम उसी के लिए नोडल एजेंसी हैं।