पर्यटकों ने की कश्मीर की कटिंग, इस गर्मी शिमला, लद्दाख और गोवा है पहली पसंद

कुछ महीनों में गर्मी की छुट्टियां होनेवाली हैं। आगामी छुट्टियों को ध्यान में रखते हुए सुकून की छुट्टियां मनाने अबकी बार कहां जाना है, इसे लेकर पर्यटकों की योजनाएं बन रही हैं। पर्यटन की अगर कोई बात करता था तो अब तक सबसे पहले लोगों द्वारा कश्मीर का नाम लिया जाता था लेकिन अब ऐसा नहीं है। अब लोग कश्मीर के नाम पर ही तौबा करने लगे हैं। आतंकी हमले के बाद पर्यटकों ने इस बार पर्यटन स्थलों की फेहरिस्त से कश्मीर के नाम की कटिंग कर दी है। ट्रैवल एजेंसियों की मानें तो इस गर्मी में शिमला, लद्दाख और गोवा पर्यटकों की पहली पसंद हैं। वहीं कुछ ट्रैवल एजेंसियों ने तो पुलवामा में हुए आतंकी घटना के बाद कश्मीर की बुकिंग लेनी ही बंद कर दी है।
बता दें कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पर्यटकों ने कश्मीर से किनारा करने में ही अपनी भलाई समझी है। ट्रैवल एजेंसियों की मानें तो इस बार कश्मीर के पर्यटन व्यवसाय में ८० प्रतिशत तक की गिरावट देखी जा रही है। पुलवामा आतंकी हमले का असर साफ तौर पर यहां की टूरिस्ट बुकिंग पर दिख रहा है। श्री महालक्ष्मी ट्रैवल्स के मालिक आशुतोष गुप्ता का कहना है कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद से हमने कश्मीर की बुकिंग बंद कर दी है। यही निर्णय हमारे एसोसिएशन ने भी लिया है। पहले लोग कश्मीर की बुकिंग से जुड़ी जानकारी मांगते थे लेकिन इस बार ऐसा नहीं है। लोग खुद से ही कश्मीर जाने से मना कर रहे हैं। गुप्ता के अनुसार इस बार गर्मी में कश्मीर की बजाय पर्यटक शिमला, लद्दाख और गोवा जाने में ज्यादा दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इन पर्यटनस्थलों की भी ज्यादा बुकिंग देखी जा रही है। लगभग ७० फीसदी बुकिंग लद्दाख, शिमला, गोवा और हिमाचल की हो रही है। वहीं अंतरराष्ट्रीय ट्रैवल एजेंसी कॉक्स एंड किंग के अनुसार डोमेस्टिक मार्वेâट में हिमाचल, सिक्किम, दार्जिलिंग, लद्दाख, भूटान की अधिक डिमांड देखी जा रही है।