पांच दिन चलेगी मरे की राजधानी

यात्रियों की बढ़ती मांग और भीड़ को देखते हुए सेंट्रल रेलवे राजधानी एक्सप्रेस को सप्ताह में पांच दिन चलाने की तैयारी कर रही है। बता दें कि उद्घाटन के दिन ही पूरी ट्रेन भरी थी, इसके चलते अनुमान लगाया जा रहा था कि आनेवाले दिनों में राजधानी के फेरे बढ़ाने होंगे। वेस्टर्न रेलवे में राजधानी रोज चलती है। एक वरिष्ठ रेल अधिकारी ने बताया कि हम कुछ समय पहले से ही ‘सीएसएमटी-हजरत निजामुद्दीन’ राजधानी का फेरा बढ़ाने के लिए दिल्ली के वरिष्ठ रेल अधिकारियों से बातचीत कर रहे थे। कई कारणों के चलते यह हो नहीं पा रहा था।

अब रेलवे बोर्ड ने हमारे नए टाइम टेबल को मंजूरी दे दी है। इससे ‘सीएसएमटी-हजरत निजामुद्दीन’ जानेवाली राजधानी के फेरे बढ़ाने का रास्ता साफ हो गया है। नए टाइम टेबल को मंजूरी मिलने के बाद शनिवार को राजधानी एक्सप्रेस दोपहर ४.१० बजे रवाना की गई। यह रविवार सुबह १०.५ बजे हजरत निजामुद्दीन पहुंची। अब तक यह सीएसएमटी से २.५० बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह १०.२० बजे हजरत निजामुद्दीन पहुंचती थी। बता दें कि सेंट्रल रेलवे में पहली बार राजधानी में पुश पुल मोड़ सहित दोनों बगल में इलेक्ट्रिकल इंजिन जोड़ा गया है। इसके कारण कसारा-इगतपुरी घाट मार्ग से राजधानी एक्सप्रेस आसानी से चलेगी। और कसारा-इगतपुरी घाट में गाड़ी की स्पीड भी बढ़ेगी। वरिष्ठ रेल अधिकारी का कहना है कि हमने पांच दिन राजधानी चलाने का निर्णय लिया है और बाकी के दो दिन में इसका मेंटेनेंस किया जाएगा। सूत्रों की मानें तो आनेवाले एक महीने में सप्ताह में पांच दिन राजधानी मुंबई से दिल्ली और दिल्ली से मुंबई चलनी शुरू हो जाएगी।