पाकिस्तान का ‘दबाव’ बनेगा और ठंडी हो जाएगी ‘ठंडी’

फरवरी के अंत तक मुंबईकरों को ठंडी का जितना लुत्फ उठाना है उठा लें क्योंकि जल्द ही पाकिस्तान से आनेवाला कम दबाव का क्षेत्र हिंदुस्थान से गुजरेगा। उत्तर में बारिश देने के बाद ठंडी हवाएं ३ से ४ दिन चलेंगी लेकिन उसके बाद ठंडी भी ‘ठंडी’ पड़ जाएगी और शहर का तापमान बढ़ने लगेगा। मतलब ठंडी खत्म हो जाएगी।
बता दें कि पश्चिमी देश जैसे अफगानिस्तान, पाकिस्तान से आनेवाले एक के बाद एक कम दबाव का क्षेत्र हिंदुस्थान के उत्तरी राज्यों से गुजरते हैं। जहां-जहां से यह कम दबाव का क्षेत्र गुजरता है वहां बरसात होती है। जैसे हरियाणा, दिल्ली, यूपी में हाल फिलहाल में बारिश और बर्फबारी दोनों ही देखी गई। बारिश के गिरने से उत्तरी इलाकों के तापमान में गिरावट होती है। जैसे ही उत्तर से दक्षिण की ओर आनेवाली ठंडी हवाएं प्रबल होती हैं, मुंबई का तापमान गिरने लगता है। मौसम विशेषज्ञ की मानें तो इस बार ठंडी फरवरी के आखिर तक रहेगी, उसके बाद पारा चढ़ने लगेगा। मौसम का आकलन करनेवाली संस्था ‘स्काईमेट’ के चीफ मेट्रोलॉजिस्ट महेश पालावत ने कहा कि २५ फरवरी को एक और पश्चिमी कम दबाव का क्षेत्र आनेवाला है। संभवत: यह आखिरी कम दबाव का क्षेत्र होगा, जिसके बाद उत्तर में भी पारा बढ़ेगा और ठंडी हवाएं उत्तर से दक्षिण तक नहीं पहुंच पाएंगी। फिलहाल न्यूनतम तापमान १८ से २० डिग्री सेल्सियस के बीच बना रहेगा और अधिकतम तापमान में बढ़त होगी।