" /> पाक के पायलटों पर लगाए बैन, 32 यूरोपीय देशों की सलाह

पाक के पायलटों पर लगाए बैन, 32 यूरोपीय देशों की सलाह

पाकिस्तान के पायलटों को एक और बड़ा झटका लगा क्योंकि 32 सदस्य देशों ने उनके उड़ने पर भरने पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश की है। यूरोपियन यूनियन एविएशन अथॉरिटी (ईएएसए) के 32 सदस्य देशों के विमानन प्राधिकरणों को पाकिस्तानी पायलटों को जारी लाइसेंस के निलंबन पर विचार करने की सिफारिश की है।

ईएएसए ने अपने 32 सदस्य देशों को कथित रूप से ‘पाकिस्तान में जारी किए गए पायलट लाइसेंस से संबंधित धोखाधड़ी’ के बारे में एक पत्र लिखा है और उड़ान संचालन के लिए ऐसे पायलटों को शेड्यूल नहीं करने की सिफारिश की है। पत्र में कहा है कि आप पब्लिक डोमेन में उपलब्ध जानकारी से अवगत हो सकते हैं जो यह दर्शाता है कि पाकिस्तान नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (PCAA) द्वारा जारी किए गए एयरलाइंस पायलट के लाइसेंस का लगभग 40% या तो गलत है और अन्यथा ICAO के अनुरूप नहीं है।

पत्र में आगे कहा गया है कि आपके संगठन को वर्तमान में वैध पाकिस्तानी लाइसेंस रखनेवाले पायलटों को नियुक्त करना चाहिए। हम इसकी सराहना करेंगे अगर आप ईएएसए को सूचित करेंगे कि इसको लेकर आपने कोई एक्शन लिया है या फिर इसकी कोई योजना है।  इस फैसले के बाद पाकिस्तान के उड्डयन मंत्री गुलाम सरवर खान ने बताया कि 262 कमर्शियल पायलटों के लाइसेंस संदिग्ध हैं। पाकिस्तानी मीडिया ने बताया कि घोषणा के बाद पीआईए ने 141 पायलटों को उडान भरने से रोक दिया है।

ईएएसए ने फैसला लिया है कि एक जुलाई से छह महीने के लिए यूरोपीय संघ के सदस्य देशों में पीआईए की कोई भी फ्लाइट उडान नहीं भरेगी।  जियो टीवी ने बताया कि इस बीच पाकिस्तान सिविल एविएशन अथॉरिटी (CAA) ने फर्जी डिग्री रखने के संदेह में पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) के 34 और पायलटों के लाइसेंस निलंबित कर दिए हैं। एक अधिसूचना के अनुसार, पायलटों के खिलाफ जांच पूरी नहीं होने तक लाइसेंस निलंबित रहेंगे।