पागल कुत्ते का कोहराम

भाइंदर-पश्चिम के मैक्सेस मॉल के पीछे और भीमसेन जोशी (टेंबा) मनपा अस्पताल के आस-पास रविवार दोपहर को एक पागल कुत्ते के कारण अफरा-तफरी मच गई। कुत्ते ने दो घंटे के अंदर १५ लोगों को काटा। रविवार होने के कारण भाइंदर-पश्चिम का मैक्सेस मॉल परिसर में कुछ ज्यादा ही भीड़-भाड़ रहती है। कल दो बजे दोपहर में अचानक एक पागल कुत्ता मॉल के पीछे आया और आसपास के बच्चे, महिला, बुजुर्गों व राहगीरों को काटना शुरू कर दिया। लगभग दो घंटे के अंदर परिसर के १५ लोगों को कुत्ते ने अपना शिकार बना डाला, जिसमें एक ही परिवार के तीन लोग, दो बच्चे और बच्चे की मां, एक मनपा कर्मचारी भी शामिल है। मनपा का टेंबा अस्पताल नजदीक होने के कारण आनन-फानन में सभी पीड़ित अस्पताल पहुंचे, वहां उनको प्राथमिक उपचार तो मिला लेकिन कुत्ते काटने के बाद रैबिज वेक्सिन की लगनेवाली सुई नहीं मिली। अस्पताल में कार्यरत कर्मचारी ने रैबिज की सुई उपलब्ध नहीं होने की बात कही। तब कुछ लोग बाहर से लाए, तो कुछ लोग अन्य अस्पतालों की ओर इलाज के लिए निकल गए। १,५०० करोड़ रुपए की लागतवाली मनपा के इकलौते अस्पताल में रैबिज की सुई उपलब्ध नहीं होने के कारण लोगों में काफी रोष देखा गया। इस मामले में जब मनपा अधिकारी डॉ. पडवल को फोन किया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। हालांकि बाद में लोगों ने कुत्ते को मार दिया।