" /> पालघर लिंचिंग मामले में एक्शन, तीन और पुलिसकर्मी सस्पेंड

पालघर लिंचिंग मामले में एक्शन, तीन और पुलिसकर्मी सस्पेंड

महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं समेत तीन लोगों को भीड़ के द्वारा लिंचिंग यानी पीट-पीटकर हत्या के मामले में लगातार एक्शन लिया जा रहा है। बुधवार को इस मामले में तीन और पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है, इनमें एक असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर और 2 हेड कांस्टेबल शामिल हैं, जो कि कासा पुलिस स्टेशन में तैनात थे।
पालघर से कुछ दूर एक गांव में भीड़ ने चोरी के शक में दो साधुओं और उनके ड्राइवर की हत्या कर दी थी। इसी के बाद राज्य सरकार की ओर से सबसे पहले दो पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया था, जो कि थाने के इंचार्ज थे, वहीं बीती रात करीब 35 पुलिसकर्मियों का एक साथ तबादला कर दिया गया था। इस मामले में अभी तक 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और हत्या का मामला दर्ज किया जा चुका है। 16-17 अप्रैल की रात जब ये दो साधु अपने ड्राइवर के साथ गांव से गुजर रहे थे, तब लोगों को चोरों के आने का शक हुआ। साधुओं की हत्या के मामले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उद्धव ठाकरे से बात की थी और कड़ा एक्शन लेने की अपील की थी। इस मामले के बाद उद्धव ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में हर किसी से अपील की थी कि इस मामले को धार्मिक रूप न दें, जो भी दोषी हैं उन्हें सजा दी जाएगी।