पिंजरे में प्राणी, थिएटर में कहानी, हाईटेक हुआ रानीबाग

 आदित्य ठाकरे के हाथों आधुनिक परियोजना का लोकार्पण
मुंबई स्थित वीरमाता जीजाबाई भोसले उद्यान व प्राणी संग्रहालय (रानी बाग) अब और हाइटेक होते जा रहा है। पर्यटकों की सुरक्षा व मनोरंजन के साथ-साथ पशु-पक्षियों के खान-पान और रहन-सहन पर मनपा प्रशासन ने अधिक जोर दिया है। पिंजरों में रहनेवाले प्राणियों की जानकारी व कहानी पर्यटक यहां थ्रीडी थिएटर के जरिए पा सकेंगे, ऐसी विभिन्न आधुनिक परियोजनाओं का शुभारंभ आज दोपहर साढ़े बारह बजे शिवसेना नेता-युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे के हाथों होगा।
बता दें कि रानीबाग को अंतर्राष्ट्रीय प्राणी संग्रहालय बनाया जा रहा है। इसके लिए देश-विदेश से विभिन्न प्रजातियों के पशु-पक्षी यहां लाए जानेवाले हैं। इनके लिए नए पिंजरों के अलावा इनके खान-पान पर अधिक ध्यान दिया जा रहा है। नए आनेवाले बाघ, शेर, तेंदुए आदि जानवरों के लिए क्वारंटाईन क्षेत्र, पक्षियों के लिए आधुनिक पिंजरे आदि बनाए जाएंगे। इसके अलावा पशु के खान-पान के लिए किचन कांप्लेक्स बनाया गया है। साथ ही हिमालयन भालू के पिंजरे के अंदरूनी जगह स्टोनी ग्रोटो का नवीनीकरण किया गया है। पशु-पक्षियों के अलावा पर्यटकों का मनोरंजन करने के लिए थ्रीडी थिएटर भी बनाया गया है। २०५ सीटों की क्षमतावाले इस थिएटर में विभिन्न पशु-पक्षियों की जानकारीवाली फिल्म एनिमल प्लानेट के माध्यम से दिखाई जाएगी। मनोरंजन के साथ ही पर्यटकों की सुरक्षा पर भी ध्यान दिया गया है। सुरक्षा के लिहाज से यहां २०० सीसीटीवी वैâमरे लगाए गए हैं। इन वैâमरों की मॉनिटरिंग के लिए कंट्रोल रूम तथा आपदा परिस्थितियों से पर्यटकों को अलर्ट करने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम प्रणाली कार्यान्वित की जाएगी।