पीएनबी घोटाला नीरव की कसती नकेल से मेहुल घबराया

पीएनबी महा घोटाला मामले में मुख्य आरोपी नीरव मोदी की लंदन में गिरफ्तारी के बाद हिन्दुस्थान में उसकी बेशकीमती पेंटिंग्स और कारों की नीलामी की तैयारी शुरू हो गई है। नीरव का अलीबाग का बंगला पहले ही ढहा दिया गया है। नीरव के खिलाफ हिन्दुस्थानी जांच एजेंसियों की नकेल लगातार सख्त होती जा रही है, इसका असर घोटाले में नीरव के साथी रहे मेहुल चौकसी पर दिखाने लगा है। रिश्ते में नीरव का मामा लगनेवाले मेहुल चौकसी ने मुंबई के पीएमएल कोर्ट में एक याचिका दाखिल की है। इस याचिका में मेहुल चौकसी ने अदालत में अपने खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए पेश होने से छूट देने की मांग की है। इस याचिका में मेहुल चौकसी ने अदालत को बताया है कि वह काफी समय से बीमार चल रहा है। याचिका के अनुसार चौकसी को दिल की बीमारी के साथ ही पैरों में दर्द और दिमाग में खून का थक्का जमा हुआ है।
इससे पहले यह खबर थी कि भगोड़े हीरा व्यवसायी मेहुल चौकसी के विरुद्ध एंटीगुआ में प्रत्यर्पण की प्रक्रिया चल रही है। सूत्रों के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) जैसी हिन्दुस्थानी जांच एजेंसियों ने उस देश के अधिकारियों को आवश्यक दस्तावेज भेज दिए हैं। उल्लेखनीय है कि मेहुल चौकसी और उसके भानजे नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक के लगभग 13 हजार करोड़ रुपए का घोटाला करने का आरोप है। नीरव मोदी को गत मंगलवार को लंदन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। नीरव की यह गिरफ्तारी ब्रिटेन के अधिकारियों को हिन्दुस्थान की ओर से भेजे गए इसी तरह के प्रत्यर्पण आग्रह के तहत की गई है। लंदन में मेहुल चौकसी ने खुद को बेल्जियम का नागरिक बताया है और ‘मिलोनी जेम्स, जुमेराह, दुबई संयुक्त अरब अमीरात (यूएई)’ को अपना प्रमुख पता बताया है।